मवाना में पुरानी रंजिश में युवक को गोली मारी

मवाना में पुरानी रंजिश में युवक को गोली मारी


मेरठ। मवाना थाना क्षेत्र के मवान खुर्द गांव में मंगलवार की देर रात पुरानी रंजिश के विवाद में एक युवक को गोली मार दी गई। इससे गांव में जातीय तनाव फैल गया। लोगों ने आरोपित को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। आनन-फानन में पुलिस ने जाकर मामले को संभाला।

लगभग एक वर्ष पूर्व मवाना खुर्द गांव में सचिन त्यागी और शिल्पी गुर्जर के बीच मारपीट हो गई थी। दोनों पक्षों की ओर से थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया था। इस मामले में सचिन त्यागी की ओर से तरमेंद्र उर्फ मोहित पुत्र भूपेंद्र त्यागी गवाह बना हुआ था। बाद में इस मुकदमे में समझौता हो गया, लेकिन शिल्पी गुर्जर की इस बात को लेकर तरमेंद्र से रंजिश रखने लगा। लगभग 15 दिन पहले तरमेंद्र को घर बुलाकर लाठी-डंडों से पीटा गया था। मंगलवार की रात को शिल्पी ने तरमेंद्र के घर जाकर गालीगलौच कर दी।

विरोध करने पर शिल्पी ने गोली चला दी जो तरमेंद्र की जांघ में जा लगी। आसपास के लोगों ने इकट्ठा होकर आरोपित शिल्पी को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। इस घटना से गांव में जातीय तनाव फैल गया। सूचना पर सीओ मवाना यूएन मिश्रा और मवाना इंस्पेक्टर विनय आजाद पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे। इस पर त्यागी समाज के लोगों ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए और जाम लगाने का प्रयास किया। सीओ ने लोगों को समझा बुझाकर शांत किा। पीड़ित तरमेंद्र के भाई रविंद्र ने बताया कि इस मामले में पुलिस ने बड़ी लापरवाही की। 15 दिन पूर्व तरमेंद्र को शिल्पी ने अपने घर बुलाकर बुरी तरह से पीटा था। पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से नहीं लिया। सीओ का कहना है कि आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज लिया गया है। आरोपित के पास से तमंचा व कारतूस बरामद हुआ है।


Share it
Top