दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया

दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया

मेरठ। प्रबन्ध निदेशक पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ के निर्देशानुसार श्री अजय कुमार, अपर पुलिस अधीक्षक प्रवर्तन (ए०एस०पी०) की अध्यक्षता में नवगठित एण्टी थेफ्ट थानों के अधिकारियों/कर्मचारियों के सहायतार्थ विद्युत अधिनियम में सुसंगत प्राविधानों एवं प्रवर्तन दल के कार्य प्रतिक्रियाओं के सम्बन्ध में आज यहां दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में एण्टी थेफ्ट थानों में नियुक्त किये गये अधिकारियों/कर्मचारियों को टैरिफ की श्रेणी, चेकिंग के समय आवश्यक उपकरण, वस्तुओं के सम्बन्ध में, चेकिंग रिपोर्ट भरने, विद्युत अधिनियम की धाराओं (135/138/126, इत्यादि), शमन शुल्क व राजस्व निर्धारण, आर०एम०एस० पोर्टल पर प्रविष्टियों, रेड की प्लानिंग/पूर्व में की गयी रेड्स में आई कठिनाइयों एवं केस स्टडीज आदि के सम्बन्ध में नामित की गयी फैकल्टियों द्वारा प्रशिक्षण प्रदान किया गया। अजय कुमार सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक प्रवर्तन पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, द्वारा अवगत कराया गया है कि एन्टी थेफ्ट थानों के क्रियाशील होने से शीघ्र एफ०आई०आर० दर्ज कराकर विद्युत चोरी से सम्बन्धित प्रकरणों की विवेचना में तेजी आयेगी एवं विद्युत चोरी करने वाले उपभोक्ताओं पर सख्ती से निपटा जा सकेगा।

विद्युत अधिनियम की धारा 126 तथा 135 में अन्तर के सम्बन्ध में प्राथमिकी दर्ज कराने के सम्बन्ध में विद्युत चोरी की सूचना प्राप्त करने आदि महत्वपूर्ण विषयों पर प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा। आशुतोष निरंजन, (आईएएस) प्रबन्ध निदेशक पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ ने कहा है कि कार्यशाला नवगठित एण्टी थेफ्ट थानों को आंवटित किये गये अधिकारी/कर्मचारियों के लिये मील का पत्थर साबित होगी। विद्युत चोरी पर अंकुश लगाने हेतु, प्रत्येक जानपद में विद्युत चोरी निरोधक पुलिस थानों की स्थापना की जा रही है। प्रथम चरण में डिस्काम के अर्न्तगत पाँच एण्टी थेफ्ट थाने खोले जाने प्रस्तावित है। जिससे स्टाफ की नियुक्ति कर दी गयी है, जिनमें 9 उपनिरीक्षक, एक हेडकान्स्टेबिल एवं 11 आरक्षी की तैनाती कर दी गयी है।

Share it
Top