अब नहीं खुलेगी मीट फैक्ट्री की सील, जीडीए ने प्रस्ताव किया स्थगित

अब नहीं खुलेगी मीट फैक्ट्री की सील, जीडीए ने प्रस्ताव किया स्थगित


गाजियाबाद। डासना स्थित मीट फैक्ट्री ईगल कॉन्टिनेंटल फूड्स की सील अब नहीं खुलेगी। गाजियाबाद के विधायकों व जीडीए बोर्ड के सदस्यों की मांग पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले पर रिपोर्ट तलब की थी जिसके बाद गाजियाबाद विकास प्राधिकरण (जीडीए) ने फैक्ट्री की भूमि के लैंड यूज़ परिवर्तन का प्रस्ताव स्थगित कर दिया है।

डासना स्थित मीट फैक्ट्री ईगल कॉन्टिनेंटल फूड्स मीट एक्सपोर्ट का कारोबार करती है। यह फैक्ट्री कुल 15 हजार वर्ग मीटर भूमि पर संचालित की जा रही थी जिसमें 6 हजार वर्ग मीटर भूमि का भू-उपयोग औद्योगिक है जबकि नौ हजार वर्ग मीटर भूमि का भू-उपयोग आवासीय है। डासना निवासी इमरान नामक एक शख्स ने इसकी शिकायत कमिश्नर से की थी। कमिश्नर ने इसकी जांच के आदेश दिए थे। जांच के बाद जीडीए ने फैक्ट्री को सील कर दिया था। इसके बाद फैक्ट्री प्रबंधन ने नौ हजार वर्ग मीटर भूमि का भू -उपयोग औद्योगिक करने के लिए आवेदन किया जिसका प्रस्ताव जीडीए की पहली बोर्ड बैठक में रखा गया।

जीडीए बोर्ड के सदस्य हिमांशु मित्तल ने बताया कि इस बीच जीडीए अधिकारियों ने परिचालन विधि (बाई सर्कुलर) इस प्रस्ताव को पास कर दिया और 25 जून को बोर्ड बैठक में पुष्टि के लिए रखा। हिमांशु मित्तल ने बताया कि इस प्रस्ताव के कुछ बिंदुओं पर उन्होंने खुद, वार्ड के सदस्यों, जिलाधिकारी व नगर आयुक्त ने विरोध किया। उन्होंने बताया कि इसके बाद गाजियाबाद के राज्यमंत्री व विधायकों के माध्यम से मुख्यमंत्री से मिले और पूरे मामले से मुख्यमंत्री को अवगत कराया। मुख्यमंत्री ने इस मामले में जीडीए से रिपोर्ट तलब की तो अब जीडीए ने इस प्रस्ताव को स्थगित कर दिया। इस संबंध में जीडीए सचिव संतोष कुमार राय का कहना है कि इसको लेकर जो भी आदेश शासन का मिलेगा उसका पालन किया जायेगा।


Share it
Top