बैठक के द्वितीय चरण में फीडर सेगरेशन/विभक्तीकरण की समीक्षा की गयी

बैठक के द्वितीय चरण में फीडर सेगरेशन/विभक्तीकरण की समीक्षा की गयी

मेरठ। पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ में दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति (डीडीयूजीजेवाई) योजना के अन्तर्गत 11 के०वी० फीडर सेगरेशन/विभक्तीकरण के अन्र्तगत ग्रामीण पोषकों को निजी नलकूप फीडर से अलग किया जा रहा है। फीडर विभक्तीकरण कार्य के तहत 720 नग नये 11 के०वी० फीडर का निर्माण पूर्ण किया जा चुका है। 2903 ग्रामों में विद्युत तंत्र के सुदृढ़ीकरण का कार्य किया जा चुका है। बैठक के तृतीय चरण में डी०डी०यू०जी०जे०वाई० योजना की समीक्षा की गयी, जिसमें नये 33/11 के०वी० उपकेन्द्रों का निर्माण एवं क्षमतावृद्धि तथा सम्बन्धित 33/11 केवी० लाईनों के निर्माण कार्य शीघ्र पूरा कराने के निर्देश दिये गये। डी०डी०यू०जी०जे०वाई योजना के अन्र्तगत जनपद सम्भल एवं अमरोहा में विद्युतीकरण का कार्य गुणवत्तापरक करने हेतु कार्यदायी संस्था मैसर्स विश्वनाथ को 31 जुलाई तक पूर्ण करने का अल्टीमेटम दिया गया है।

आशुतोष निरंजन (आईएएस) मैनेजिंग डायरेक्टर, पश्चिमांचल डिस्काम द्वारा अधिकारियों को सम्बोधित करते हुये कहा गया कि अधिकारी कार्य में पारदर्शिता, समयबद्धता और जवाबदेही सुनिश्चित करें। जिससे कि कार्य को गुणवत्तापरक पूर्ण किया जा सके जिससे कि उपभोक्ताओं को बिल इत्यादि से सम्बन्धित परेशानी का सामना न करना पड़े। बैठक में राजकुमार अग्रवाल, निदेशक (तकनीकी/वाणिज्य), वी०एन० सिंह, मुख्य अभियन्ता (वाणिज्य), सर्वेश खरे, अधीक्षण अभियन्ता, एम०पी० सिंह, अधीक्षण अभियन्ता, योगेश कुमार, अधीक्षण अभियन्ता, राजीव अग्रवाल, अधिशासी अभियन्ता, रवि कुमार, अधिशासी अभियन्ता, आदि अधिकारी उपस्थित रहे।

Share it
Top