अरविन्द राजवेदी निदेशक (वाणिज्य) विभाग से सेवानिवृत हुए

अरविन्द राजवेदी निदेशक (वाणिज्य) विभाग से सेवानिवृत हुए

मेरठ। पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि० मेरठ, के अन्र्तगत दिनांक 30 जुलाई को अरविन्द राजवेदी निदेशक (वाणिज्य) विभाग की सेवा से सेवानिवृत हुये। श्री राजवेदी का विदाई सामारोह आज मुख्यालय स्थित मीटिंग हाल (नई बिल्डिंग) ऊर्जा भवन विक्टोरिया पार्क मेरठ में सम्पन्न हुआ।

अरविन्द राजवेदी द्वारा वर्ष 1983 को उत्तर प्रदेश राज्य विद्युत परिषद की सेवा मे सहायक अभियन्ता (प्रशिक्षु) के पद पर कार्यभार ग्रहण किया गया। वर्ष 1983 से 2005 तक लखनऊ में विभिन्न पदों पर रहें। वर्ष 2005 में प्रोन्नति होने के उपरान्त डिस्काम मुख्यालय मेरठ में अधिशासी अभियन्ता के पद पर कार्य किया। वर्ष 2011 से 2013 तक अधिशासी अभियन्ता, विद्युत नगरीय वितरण खण्ड-पंचम, नोएडा में कार्यरत रहें। दिनांक 10.06.2013 को अधीक्षण अभियन्ता के पद पर प्रोन्नति के पश्चात् वे विद्युत भण्डार मेरठ एवं विद्युत नगरीय वितरण मण्डल, नोएडा में कार्यरत रहें। दिनांक 08.06.2015 को मुख्य अभियन्ता के पद पर प्रोन्नति होने के पश्चात् दिनांक 02.07.2016 तक मुख्य अभियन्ता, गाजियाबाद क्षेत्र, गाजियाबाद रहे। दिनांक 30.06.2016 को उनका चयन निदेशक के पद पर होने के उपरान्त उन्होंने कार्यालय प्रबन्ध निदेशक मेरठ, पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि० मेरठ, में निदेशक (वाणिज्य) के पद पर कार्यभार ग्रहण किया। इसी दौरान दिनांक 10.04.2017 उनका स्थानान्तरण मध्याचल विद्युत वितरण निगम लि०, में होने के पश्चात् वे लगभग 05 माह प्रबन्ध निदेशक के पद पर भी कार्यरत रहें। दिनांक 22.09.2017 को उनका स्थानान्तरण पुन: कार्यालय प्रबन्ध निदेशक पश्चिमाचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ में होने के पश्चात् वे निदेशक(वाणिज्य), के महत्वपूर्ण पद पर दिनांक 30.06.2019 तक कार्यरत रहें।

विदाई समारोह के अवसर पर आशुतोष निरंजन, (आईएएस) प्रबन्ध निदेशक पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ द्वारा अरविन्द राजवेदी को शाल पहनाकर एवं प्रतीक चिन्ह भेंट किया। इस अवसर पर उन्होने अरविन्द राजवेदी की भूरि-भूरि प्रशंसा की विदाई समारोह में प्रबन्ध निदेशक ने कहा कि अरविन्द राजवेदी का कार्य अनुकर्णीय रहा है। उन्होंने अपने कार्यकाल में निगम हित में कई कीर्तिमान स्थापित कर, निगम को गौरवान्वित किया है। प्रबन्ध निदेशक ने इस अवसर पर अवगत कराया कि अरविन्द राजवेदी, निदेशक (वाणिज्य) द्वारा नियोजित, समयबद्व उत्कृष्ट कार्य कर अन्य डिस्कामें के सापेक्ष वित्तीय वर्ष 2018-19 में राजस्व वसूली एवं थ्रू रेट में गुणवत्तर विधि, लाईन हानियों को कम करने, सी०एस०ई० वी०एल०ई० को सक्रिय कराने एवं राजस्व संग्रह में गुणोवत्तर वृद्धि में अन्य डिस्कामों के सापेक्ष उत्कृष्ट प्रगति कर गौरवान्वित किया है। श्री अरविन्द राजवेदी के अथक प्रयासों द्वारा समस्त ग्रामीण क्षेत्रों में सी०एस०ई० वी०एल०ई० का नेटवर्क स्थापित कर राजस्व वसूली बढ़ाने में महत्वपूर्ण योगदान रहा। कार्यक्रम में यतीश वत्स, निदेशक (कार्मिक, प्रबधन एवं प्रशासन) द्वारा अरविन्द राजवेदी, निदेशक (वाणिज्य) को माला पहनाकर एवं प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर डिस्काम मुख्यालय के समस्त मुख्य अभियन्ता एवं अधीक्षण अभियन्ताओं द्वारा अरविन्द राजवेदी को माला पहनाकर सम्मानित किया एवं उन्हे स्वस्थ कामनाएं प्रेषित की।

कार्यक्रम का संचालन जे० के सिंह, अधीक्षण अभियन्ता (वाणिज्य) द्वारा किया गया, जिसकी उपस्थित अधिकारियों/अधिकारकों ने कण्ठमुक्त से सराहना की। इस अवसर पर विराग बन्सल, मुख्य अभियन्ता (एम०एम०), वी० एन० सिंह मुख्य अभियन्ता (वाणिज्य), एस० बी० यादव मुख्य अभियन्ता, मेरठ क्षेत्र, मेरठ गिरीश नारायण मिश्रा, आई० पी० सिंह, सर्वेश खरे, अनिल मलिक, अधीक्षण अभियन्ता (एम०एम०), सुरेश चन्द, अधिशासी अभियन्ता (मुख्यालय), मोहित सिंह, लेखाधिकारी, अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

Share it
Top