अध्यक्ष व प्रमुख सचिव ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से अधिकारियों को सम्बोधित किया

अध्यक्ष व प्रमुख सचिव ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से अधिकारियों को सम्बोधित किया

मेरठ। अध्यक्ष एवं प्रमुख सचिव (ऊर्जा) आलोक कुमार (आईएएस) उ०प्र० पावर कारपोरेशन लि०, लखनऊ द्वारा साप्ताहिक वीडियो कॉन्फ्रेेसिंग में समस्त डिस्कामों के अधिकारियों को सम्बोधित किया। वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में अध्यक्ष द्वारा निर्देशित किया गया है कि समस्त जनपदों में निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित की जाये। उन्होंने कहा कि ब्रेक डाउन होने की स्थिति में लोकेशन को शीघ्र चिन्हित कर तवरित गति से ब्रेक डाउन अटैन्ड किया जाये, जिससे कि उपभोक्ताओं को सुचारू रूप से गुणवत्तापरक निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करायी जा सके।

वीडियों कॉन्फ्रेसिंग में उन्होंने बताया कि कारपोरेशन द्वारा मैनुअल रिसिप्ट को तत्काल प्रभाव से बन्द कर दिया गया है। उन्होंने निर्गत की गयी समस्त मैनुअल रसीद बुक को 3 जुलाई, तक जमा कराने के निर्देश दिये। अब उपभोक्ताओं को मैनुअल रिसिप्ट नही दी जायेगी। उपभोक्ताओं को मैनुअल रिसिप्ट के स्थान पर कम्प्यूटर कृत रिसिप्ट दी जायेगी। हाई वोल्टेज ऑडिट सेल (एच.वी. ऑडिट सेल) की गहन समीक्षा की गयी। इस सम्बन्ध में उन्होंने निर्देशित किया कि हाई वोल्टेज सेल के माध्यम से राजस्व वसूली में तेजी लायी जाये। अभियान चलाकर अधिक भार वाले उपभोक्ताओं को रीडिंग एवं शत-प्रतिशत ए.एम.आर. के माध्यम से बिलिंग सुनिश्चित कराने मीटर गुणांक, डबल मीटरिंग, टैम्पर रिपोर्ट, लोड फैक्टर इत्यादि का विश्लेषण कर निश्चित समय-सीमा में कार्यवाही कराया जाना सुनिश्चित किया जाये। इस सम्बन्ध में निर्देशित किया गया कि हाई वोल्टेज ऑडिट सेल को और प्रभावशाली बनाया जाये।

एच०वी० सेल द्वारा आज मीटर में वोल्टेज, मीटर गुणांक एवं करण्ट मिसिंग जैसे बडी अनियमितताओं के 1207 प्रकरण पकडे गये हैं, जिसमें 2300.00 लाख का निर्धारण किया गया है, जिसके सापेक्ष रू० 1769 लाख की वसूली भी की जा चुकी है। अन्य की वसूली आर०सी० के माध्यम से की जा रही है। सौभाग्य, डी०डी०यू०जी०जे०वाई० 11वीं एवं 12वीं० योजना तथा आई०पी०डी०एस० योजनाओं के अन्र्तगत दिये गये संयोजनों के सम्बन्ध में निर्देशित किया गया कि बिलिंग सम्बन्धी, मीटर से सम्बन्धी कमियों को शीघ्र पूर्ण कर लिया जाये। इस सम्बन्ध में निर्देशित किया गया है कि कार्य की गुणवत्ता में यदि किसी प्रकार की कमी पायी जाती है तो सम्बन्धित कार्यदायी संस्था के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। वीडियों कॉन्फ्रेसिंग में अध्यक्ष महोदय, द्वारा राजस्व वसूली के मासिक लक्ष्यों को कार्य योजना बनाकर शत-प्रतिशत राजस्व वसूली सुनिश्चित की जाये। हाई लॉस फीडरों पर पूरी तरह से लाईन लॉस समाप्त करने हेतु क्लीन-अप अभियान में अधिक से अधिक डिस्कनेक्शन कर राजस्व वसूली सुनिश्चित की जाये।

क्लीन-अप अभियान में उनके द्वारा निर्देशित किया गया कि डिस्कनेक्शन किये गये संयोजनों के सापेक्ष शत-प्रतिशत एफ०आई०आर० सुनिश्चित की जाये एवं डिस्कनेक्शन किये गये संयोजनों को बकाया जमा कराने के उपरान्त ही जोड़ा जाये। वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में बकायेदार उपभोक्ताओं के सम्बन्ध में अध्यक्ष द्वारा निर्देशित किया गया है कि बडे पैमाने पर बकायेदार उपभोक्ताओं को आर०सी० भेजकर वसूली की जाये। मेरठ मुख्यालय स्थित वीडियो कॉन्फ्रेसिंग हाल ऊर्जा भवन विक्टोरिया पार्क में आशुतोष निरंजन (आईएएस) प्रबन्ध निदेशक, पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ की अध्यक्षता में अरविन्द राजवेदी, निदेशक (वाणिज्य), श्री राजकुमार अग्रवाल, निदेशक (तकनीकी), तथा मेरठ क्षेत्र के अधिकारियों ने बैठक में प्रतिभाग किया।

Share it
Top