उपभोक्ताओं को जानबूझकर विद्युत चोरी कराने पर किया गया अवर अभियंता को निलंबित

उपभोक्ताओं को जानबूझकर विद्युत चोरी कराने पर किया गया अवर अभियंता को निलंबित

मेरठ। विद्युत चोरी रोकने में अपने कर्तव्यों का निर्वाहन नहीं करने, उपभोक्ताओं को जानबूझकर विद्युत चोरी कराने एवं उपभोक्ताओं को संयोजन निर्गत नहीं करने पर, अवर अभियन्ता को निलम्बित किया गया है। ग्रांम मेवला भटटी में विद्युत चोरी रोकने हेतु विद्युत चैकिंग अभियान चलाया गया, जिसमें बिरजु पुत्र जुगत लाल, निवासी दरभंगा बध्व दलेराम पुत्र रूपा ग्राम मेवला भटटी एवं उमेश पुत्र भूरी लाल निवासी सोरा, काशगंज बध्व दलेराम पुत्र रूपा ग्राम मेवला भटटी द्वारा बिना संयोजन स्वीकृत कराये नजदीक एल०टी० लाईन पर अवैध रूप से कटिया डालकर नलकूप की 11 के०वी० लाईन पर 25 के०वी०ए० परिवर्तक से सीधे 19.89 किलोवाट की विद्युत चोरी कर रहे थे। विभागीय टीम द्वारा मौके पर छापा मारने पर विद्युत चोरी करते पकड़ा गया।

जांच में अवर अभियन्ता द्वारा नलकूप कनेक्शन पर बकाया 86 हजार रू० नहीं वसूला गया। इस सम्बन्ध में अवर अभियन्ता, 33/11 के०वी० विद्युत उपकेन्द्र धारीपुर, लोनी को विद्युत चोरी रोकने में अपने कर्तव्यों का निर्वाहन नहीं करने, उपभोक्ताओं को जानबूझकर विद्युत चोरी कराने एवं उपभोक्ताओं को संयोजन निर्गत नहीं करने पर प्रथम दृष्टया संलिप्ता को दृष्टिगत करते हुये राकेश कुमार, अवर अभियन्ता, 33/11 के०वी० विद्युत उपकेन्द्र धारीपुर, लोनी को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है।

आशुतोष निरंजन (आईएएस) प्रबन्ध निदेशक, पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ द्वारा बताया गया कि विद्युत चोरी रोकने हेतु चैकिंग अभियान चलाया जा रहा है। इस सम्बन्ध में किसी भी प्रकार की अनियमितता मिलने पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी। बिजली चोरी से सम्बन्धी शिकायत मोबाईल नं० 9193330020, हेल्पलाईन नम्बर 1912 एवं टोल फ्री 1800-180-3002 पर तथा विभाग के ट्वीटर हैण्डल दर्ज करा सकते हैं। सूचना देने वाले का नाम पूर्णतया गोपनीय रखा जायेगा।

Share it
Top