औद्योगिक फीडरों पर खराब विद्युत आपूर्ति दिये जाने एवं तुरन्त सप्लाई शुरू न करने पर दो उपखण्ड अधिकारियों को दिये कारण बताओ नोटिस

औद्योगिक फीडरों पर खराब विद्युत आपूर्ति दिये जाने एवं तुरन्त सप्लाई शुरू न करने पर दो उपखण्ड अधिकारियों को दिये कारण बताओ नोटिस

मेरठ। औद्योगिक पोषकों को खराब विद्युत आपूर्ति दिये जाने एवं तुरन्त सप्लाई शुरू न करने पर दो उपखण्ड अधिकारियों को प्रबन्ध निदेशक द्वारा कारण बताओ नोटिस जारी किये गये हैं। उल्लेखनीय है कि आशुतोष निरंजन (आईएएस) प्रबन्ध निदेशक, पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ के निर्देशन में डिस्काम के अंतर्गत जनपद मेरठ, गाजियाबाद, नोएडा, हापुड, बुलन्दशहर, बागपत, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, शामली, मुरादाबाद, बिजनौर, सम्भल, रामपुर एवं अमरोहा के औद्योगिक फीडरों को निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराये जाने हेतु 4 मई को आउटेज मैनेजमेन्ट सेल की स्थापना (नई बिल्डिंग) ऊर्जा भवन विक्टोरिया पार्क मेरठ में की गयी थी। आउटेज मैनेजमेन्ट सेल द्वारा वास्तविक आधार पर प्रतिदिन औद्योगिक पोषकों का अनुश्रवण किया जा रहा है तथा खराब एवं कम विद्युत आपूर्ति से सम्बन्धित उपखण्ड अधिकारियों से मुख्यालय द्वारा वार्ता की जा रही है, जिससे कि औद्योगिक फीडरों की रियल टाइम मॉनिटरिंग सम्भव हो सके। नोयडा सेक्टर-63 जी-ब्लॉक के फीडर नं० 1 एवं 2 पर तथा खुर्जा में औद्योगिक फीडर उपकेन्द्र नं०-4, खुर्जा में अधिक समय विद्युत आपूर्ति बाधित होने पर एवं तुरन्त सप्लाई शुरू न करने पर नरेश कुमार, उपखण्ड अधिकारी-प्रथम अन्र्तगत विद्युत नगरीय वितरण खण्ड-प्रथम, नोयडा एवं सुनील कुमार, उपखण्ड अधिकारी-प्रथम, अन्र्तगत विद्युत वितरण खण्ड-खुर्जा को प्रबन्ध निदेशक द्वारा कारण बताओ नोटिस जारी किये गये हैं। औद्योगिक उपभोक्ताओं को 24 घण्टे निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराने हेतु औद्योगिक फीडरों की ऑनलाईन मॉनिटरिंग की जायेगी। कोई भी औद्योगिक फीडर अधिक समय तक बन्द रहने पर सेल के अधिशासी अभियन्ता द्वारा ऑनलाईन सिस्टम पर चेक किया जा रहा है एवं प्रतिदिन के आधार पर फीडरवार विद्युत आपूर्ति का अनुश्रवण सेल द्वारा किया जा रहा है। सेल द्वारा सुनिश्चित किया जा रहा है कि सभी औद्योगिक फीडरों पर आउटेज तथा ट्रिपिंग की संख्या कम से कम हो। किसी भी फीडर पर अधिक समय का आउटेज होने पर सेल द्वारा ऑनलाईन सिस्टम पर चेक कर सम्बन्धित अवर अभियन्ता, उपखण्ड अधिकारी एवं अधिशासी अभियन्ता से जानकारी तलब की जायेगी। इस सम्बन्ध में आशुतोष निरंजन (आईएएस) प्रबन्ध निदेशक, पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ द्वारा अवगत कराया गया कि औद्योगिक उपभोक्ताओं को सुचारू रूप से विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराये जाने हेतु आउटेज मैनेजमेंट सेल की स्थापना की गयी है। फीडर पर अधिक समय तक विद्युत आपूर्ति बाधित होने पर सेल द्वारा कारणों को जानकर जल्द से जल्द विद्युत आपूर्ति रीस्टोर की जायेगी।

Share it
Top