जनसुविधा केन्द्र ग्रामीण उपभोक्ताओं के लिए बकाया जमा कराने का प्रभावी प्लेटफार्म: प्रबन्ध निदेशक

जनसुविधा केन्द्र ग्रामीण उपभोक्ताओं के लिए बकाया जमा कराने का प्रभावी प्लेटफार्म: प्रबन्ध निदेशक

मेरठ। जनसुविधा केन्द्र राजस्व वसूली बढ़ाने में महत्वपूर्ण योगदान कर रहे हैं। जन सुविधा केन्द्र ग्रामीण क्षेत्रों के उपभोक्ताओं को बकाया जमा कराने में सुविधाजनक, बेहतर एवं सुरक्षित विकल्प के रूप में साबित हो रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्ताओं द्वारा नजदीकी जन सुविधा केन्द्रों में बकाया नि:शुल्क जमा किया जा रहा है। जनसुविधा केन्द्रों के प्रति उपभोक्ताओं का विश्वास दिन-प्रतिदिन बढऩे से वी०एल०ई० (विलेज लेवल एन्टरप्रनोयर) की संख्या में वृद्वि हुई है। दिनांक 1 अप्रैल, 2018 से 31 मार्च, 2019 तक 1242093 ग्रामीण उपभोक्ताओं द्वारा लगभग 416 करोड़ 9 लाख का भुगतान जनसुविधा केन्द्रों पर किया गया।

उपरोक्त से स्पष्ट है कि जनसुविधा केन्द्रों पर उपभोक्ताओं का रूझान बढऩे से न केवल वी०एल०ई० (विलेज लेवल एन्टरप्रनोयर) की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में कन्ज्यूमर टर्न अप एवं राजस्व वसूली में भी माहवार वृद्धि हो रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में जनसुविधा केन्द्रों पर अच्छी बकाया वसूली पर प्रबन्ध निदेशक, द्वारा टीम वाणिज्य को बधाई प्रेषित की है।

इस सम्बन्ध में उन्होंने कहा कि वाणिज्य अनुभाग द्वारा की गयी कड़ी मेहनत के परिणामस्वरूप ही अच्छे परिणाम सामने आये हैं। सरचार्ज समाधान योजना के अन्र्तगत बकाया जमा कराने में जन सुविधा केन्द्रों का विशेष योगदान रहा। योजना के अन्र्तगत पंजीकृत उपभोक्ताओं द्वारा जन सुविधा केन्द्रों में बढ़-चढ़ कर बकाया जमा कराया गया।

आशुतोष निरंजन, (आईएएस) प्रबन्ध निदेशक, पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ द्वारा अवगत कराया गया कि जनसुविधा केन्द्र ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्ताओं को बकाया जमा कराने में प्रभावी प्लेटफार्म बनकर उभर रहे हैं। उपभोक्ताओं द्वारा भारी संख्या में जनसुविधा केन्द्रों पर बकाया जमा कराया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में उपभोक्ताओं में जनसुविधा केन्द्रों के प्रति भरोसा बढने से सामान्य दिवसों में भी बकाया राजस्व जमा कराया जा रहा है। इससे ग्रामीण क्षेत्रों में कन्ज्यूमर टर्नअप एवं माहवार राजस्व में वृद्धि हो रही है।

Share it
Top