बारिश से गायब हुई मेरठ की बिजली, लोग हलकान

बारिश से गायब हुई मेरठ की बिजली, लोग हलकान


मेरठ। तीन दिन से हो रही बारिश ने लोगों को बुरी तरह हलकान कर दिया है। बारिश के कारण आधे मेरठ शहर की बिजली गुल हो गई है। इस कारण लोगों को बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

भीषण बारिश के कारण मेरठ में करोड़ों का कारोबार प्रभावित हुआ है। गुरुवार से शुरू हुई बारिश शनिवार को भी जारी रही। बारिश के कारण आधा मेरठ शहर अंधेरे में डूब गया है। हाईटेंशन बिजली लाइनों के तर टूटने, फीडर खराब होने के कारण गंगानगर, शास्त्रीनगर, जागृति विहार, मेडिकल काॅलेज, कंकरखेड़ा आदि इलाकों की बिजली गुल है। बिजली नहीं होने के कारण लोग पेयजल के लिए भी तरस गए हैं। नगर निगम की पेयजल लाइन के ठप होने से लोगों के घरों तक पानी नहीं पहुंच पा रहा। इन्वर्टर डाउन होने से लोग शुक्रवार की रात अंधेरे में रहे। पीवीवीएनएल के प्रबंध निदेशक आशुतोष निरंजन ने एक बयान में कहा कि शहर की बिजली आपूर्ति सुचारू करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

कारोबार को लगा करोड़ों का फटका

भीषण बारिश के कारण शहर के विभिन्न बाजारों से लेकर दिल्ली रोड स्थित औद्योगिक इलाके में भी जलभराव हो गया। इस कारण गली-मोहल्लों की दुकानों के छोड़कर शहर के बाजार बंद पड़े हैं। दुकान और शोरूम नहीं खुलने के कारण उद्यमियों और व्यापारियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अधिकांश दुकानों में पानी भर जाने के कारण व्यापारियों का लाखों रुपये का माल खराब हो गया। दुकानदार अपनी दुकानों में भरे पानी को निकालने में लगे हैं वहीं पानी में भीगकर खराब हुए सामान को भी निकाला जा रहा है।

उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधिमंडल के वरिष्ठ प्रांतीय महामंत्री लोकेश अग्रवाल का कहना है कि तीन दिनों से हो रही बारिश के कारण लगभग 100 करोड़ का कारोबार प्रभावित हुआ है। शहर के घंटाघर, बुढ़ाना गेट, सदर बाजार, लिसाड़ी गेट, गोलाकुआं, छिपी टैंक, सेंट्रल मार्किट, पीएल शर्मा रोड, वेस्टर्न कचहरी रोड, बेगमपुल, आबूलेन आदि इलाकों में कारोबार शून्य रहा। दिल्ली रोड पर औद्योगिक क्षेत्र मोहकमपुर, साईपुरम, उद्योगपुरम समेत विभिन्न इलाकों में बारिश के बाद पूरा इलाका जलमग्न हो गय। फैक्ट्रियों में पानी घुस गया। दिल्ली रोड स्थित नवीन मंडी भी पूरी तरह से बारिश के दौरान जलमग्न हो गई थी। सब्जी और फल मंडी में दुर्गंध फैली हुई है।


Share it
Top