मेरठ: भूमाफियाओं पर पुलिस-प्रशासन का चला चाबुक, तीन सौ बीघा भूमि कराई मुक्त...दबंगों ने चारदीवारी कर कब्जा रखी थी सरकारी भूमि

मेरठ: भूमाफियाओं पर पुलिस-प्रशासन का चला चाबुक, तीन सौ बीघा भूमि कराई मुक्त...दबंगों ने चारदीवारी कर कब्जा रखी थी सरकारी भूमि

मेरठ। सरधना नगर पंचायत खिवाई में पुलिस-प्रशासन की टीम ने भूमाफियाओं के खिलाफ जमकर अभियान चलाया। इस कार्रवाई के चलते दबंग भूमाफियाओं में हडकंप मच गया। भारी पुलिस फ़ोर्स की मौजूदगी के चलते भूमाफिया पस्त नजर आए। इस अभियान से सैंकडों बीघा भूमि को अवैध कब्जा मुक्त कराया गया। इस दौरान टीम ने सरकारी भूमि पर खडी सरसों, ईंख, गेंहू आदि की फसल को ट्रैक्टर टीलर चलवाकर तहस-नहस कर दिया। हालांकि इस दौरान टीम का दबंगों ने विरोध किया लेकिन उनकी एक नही चली। टीम की कार्रवाई रविवार को भी जारी रही। बतादें की कस्बा खिवाई के जंगल में लम्बे समय से खसरा संख्या 696 लगभग 300 बीघा जमीन बंजर भूमि के रूप में कस्बे के ही नन्हे पुत्र अनवार, साजिद पुत्र मेदअली,यामीन पुत्र बसरू, अजीज पुत्र सरदार, इंसाद पुत्र महमूद, अशोक पुत्र रोहताश, नसरत पुत्र मूद अली, शाकर पुत्र मुराद अली, अबरार पुत्र इसहाक आदि ने उक्त भूमि पर अवैध कब्ज़ा कर फसल की बुआई कर रहे थे। जिसे छुड़ाने के लिये बार-बार प्रशासन दबंगों को चेतावनी दे रहा था लेकिन दबंग इससे बाज नही आ रहे थे। कुछ दिन पहले दबंगों ने उक्त भूमि पर चार दिवारी करली और उसके अन्दर ईंख,गेंहू, सरसों आदि की फसल बो डाली। इस मामले में कुछ ग्रामीणों ने कमिश्नर प्रभात कुमार से शिकायत की थी। जिसके बाद कमिश्नर ने नगर पंचायत प्रशासन को इसे तुंरत कब्जा मुक्त कराने के आदेश जारी कर दिये थे। इसके बाद नगर पंचायत अधिशासी अधिकारी पवित्रा त्रिपाठी, तहसील प्रशासन की टीम कानूनगो नरेश कुमार की अगुवाई में पुलिस फोर्स के साथ में जंगल में पहुंची और वहां चार दीवारी को तोड़ते हुए गिरा दिया। वहां खडी ईंख, गेंहू, सरसों, आदि की फसल में ट्रक्टर टीलर चलाकर तबाह और बर्बाद कर दिया। कार्रवाई की भनक लगने पर दबंग किसान विरोध करने पहुंचे। भारी पुलिस फ़ोर्स की मौजूदगी के चलते उनकी एक नहीं चली। इस बारे में ईओ पवित्रा त्रिपाठी ने बताया कि टीम की कार्रवाई रविवार को भी जारी रहेगी। इस मौके पर खिवाई चौकी इंचाज सुरेंद्र सिंह,दारोगा निकलेश रस्तोगी, बाबू असलम, बाबू मोमीन व पुलिस बल के साथ नगर पंचायत का स्टाफ भी मोजूद रहा।

Share it
Top