उप्र सरकार 10,357 मत्स्य पालकों को उपलब्ध करायेगी किसान क्रेडिट कार्ड

उप्र सरकार 10,357 मत्स्य पालकों को उपलब्ध करायेगी किसान क्रेडिट कार्ड


लखनऊ - उत्तर प्रदेश सरकार चालू वित्त वर्ष में 10,357 मत्स्य पालकों को किसान क्रेडिट कार्ड उपलब्ध करायेगी। आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को यहां बताया कि राज्य के मत्स्य विभाग द्वारा इस वर्ष 10,357 मत्स्य पालकों को किसान क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया है। किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से मत्स्य पालकों को अपने व्यवसाय में वृद्धि के लिए आसानी से ऋण मिल सकेगा। उन्होंने बताया कि जिला स्तर पर किसान क्रेडिट कार्ड का वितरण अभियान चलाकर करने का कार्य प्रारम्भ किया गया है। किसान क्रेडिट कार्ड के लिए किसानों से आगामी 30 सितम्बर तक आवेदन पत्र आमंत्रित किये गये हैं।

मत्स्य विभाग के निदेशक एस0के0 सिंह ने बताया कि किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से मत्स्य पालकों को अपने व्यवसाय में वृद्धि के लिए आसानी से ऋण मिल सकेगा। उन्होंने बताया कि किसान क्रेडिट कार्ड प्राप्त करने के लिये इच्छुक मत्स्य पालक अपने जिला मत्स्य कार्यालय से सम्पर्क स्थापित करना होगा।

श्री सिंह ने बताया कि पट्टाधारक मत्स्य पालक, निजी क्षेत्र के मत्स्य पालक, पंजीकृत मत्स्य जीवी सहकारी समितियां, हैंचरी एवं मत्स्य बीज उत्पादक, महिला समूह एवं स्वयं सहायता समूह को वार्षिक निवेश के लिय एक लाख पचास हजार रूपये से दो लाख रूपये तक की फसली ऋण के रूप में किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा वार्षिक ब्याज दरों पर उपलब्ध कराई जायेगी। उन्होंने बताया कि वर्ष 2018-19 से मत्स्य पालकों को मत्स्य निवेश एवं मत्स्य तालाब/जलक्षेत्रों के वार्षिक रखरखाव एवं अनुरक्षण के लिये केन्द्र सरकार द्वारा किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा सुलभ करायी जाती है।


Share it
Top