लखनऊ मेट्रो रेल सेवा को जल्द से जल्द किया जाए चालू

लखनऊ मेट्रो रेल सेवा को जल्द से जल्द किया जाए चालू

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने लखनऊ मेट्रो रेल सेवा के प्रथम चरण का काम जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिये हैं।
राज्य के मुख्य सचिव राजीव कुमार आज यहां निर्माणाधीन लखनऊ मेट्रो रेल सेवा के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। श्री कुमार ने कहा कि मेट्रो के अधूरे काम को प्राथमिकता से पूरा कराने के साथ रेलवे सुरक्षा आयुक्त से 'क्लीयरेंस' लेकर ट्रांसपोर्टनगर से चारबाग तक मेट्रो सेवा शीघ्र शुरु कर दी जाए। श्री कुमार ने कहा कि राज्य के अन्य शहरों में मेट्रो का संचालन कराने के लिए प्रस्तावित कार्य योजनाओं में तेजी लाकर अधूरे कार्यों को प्राथमिकता से पूरा कराया जाना चाहिए। उन्होंने मेरठ एवं आगरा में मेट्रो संचालन के लिए प्रस्तावित विस्तृत परियोजना रिपोर्ट(डीपीआर) का परीक्षण कराकर आगे की कार्रवाई शीघ्र सुनिश्चित करायी जाए। उन्होंने गोरखपुर में मेट्रो रेल सेवा के लिए डीपीआर बनाने के निर्देश दिये। उन्होंने रीजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (आरआरटीएस) की प्रगति की जानकारी लेकर उसे शीघ्र क्रियान्वित कराने के भी निर्देश दिये। बैठक में मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के प्रबन्ध निदेशक कुमार केशव ने बताया कि लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना के प्राथमिक सेक्शन (ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग) में सिविल एवं सिस्टम्स के अधिकतर काम पूरे हो गये हैं। इस सेक्शन पर रोलिंग स्टॉक के ट्रायल्स का काम पूरा कराकर रेल मंत्रालय से स्वीकृति प्राप्त की जा चुकी है। इस सेक्शन पर रेवन्यू ऑपरेशन प्रारंभ किये जाने के लिए अन्तिम गतिविधि के रूप में रेलवे संरक्षा आयुक्त से'क्लीयरेंस लेने के लिए गत नौ जून को ही प्रार्थना पत्र दिया जा चुका है। श्री केशव ने बताया कि लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना के द्वितीय चरण नार्थ-साउथ कॉरिडोर का निर्माण प्रगति पर है। इस सेक्शन पर निर्माण कार्यों को तेजी से पूरा कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कानपुर, वाराणसी मेट्रो रेल परियोजनाओं का डीपीआर राज्य सरकार ने अनुमोदित कर केन्द्र सरकार को स्वीकृति के लिए भेज दिया है जबकि मेरठ और आगरा का डीपीआर तैयार है तथा इस पर राज्य सरकार का अनुमोदन प्राप्त किया जाना है। उन्होंने बताया कि गोरखपुर तथा इलाहाबाद मेट्रो की डीपीआर को तैयार किया जा रहा है। बैठक में आवास विकास विभाग के प्रमुख सचिव मुकुल सिंघल, औद्योगिक विकास विभाग के प्रमुख सचिव आलोक सिन्हा, वित्त विभाग के सचिव मुकेश मित्तल समेत कई वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Share it
Top