तंत्र क्रिया के चक्कर में बेटी को जिंदा दफनाया...काफी दिनों से बीमार चल रही थी बालिका

तंत्र क्रिया के चक्कर में बेटी को जिंदा दफनाया...काफी दिनों से बीमार चल रही थी बालिका

मुरादाबाद। उत्तर प्रदेश में मुरादाबाद के मौला क्षेत्र में तंत्र क्रिया के चक्कर में बीमार बेटी को जिंदा जलाने का मामला प्रकाश में आया है।

पुलिस ने बताया क्षेत्र के चौधरपुर गांव में तंत्र-मंत्र के चक्कर में बीमार बालिका तारा को घर पर जिंदा दफना दिया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृत्यु का कारण दम घुटना बताया गया है, हालांकि परिजन मौत के बाद अंधविश्वास के चक्कर में शव को घर में दफन करने की बात कर रहे है। सूत्रों ने बताया कि शनिवार को पुलिस को सूचना मिली थी कि गांव के आनंदपाल के घर में बच्ची की हत्या कर उसे दफन कर दिया गया है। मौके पर पहुंची अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) अपर्णा गुप्ता व मझौला प्रभारी निरीक्षक विकास सक्सेना द्वारा गढ्ढा खोदकर आनंदपाल की पत्नी मीना की बेटी तारा (4 वर्ष) के शव को बाहर निकलवा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। रविवार को शव का पोस्टमार्टम हुआ तो चौकाने वाला सच सामने आ गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण दम घुटना आया है। इससे तय माना जा रहा है कि बीमार बच्ची को जिंदा दफन किया गया था। पुलिस ने ग्राम प्रधान पति को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है, वहीं मृतका के मां तथा पिता दोनों के विरुद्ध अभियोग पंजिकृत कर कार्यवाही की जा रही है। पुलिस मामले की तहकीकात में जुटी हुई है।

Share it
Top