मोहसिन रजा ने मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक पर उठाये सवाल, कहा- इनको कौन कर रहा फंडिंग

मोहसिन रजा ने मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक पर उठाये सवाल, कहा- इनको कौन कर रहा फंडिंग


लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री मोहसिन रजा ने नदवा कॉलेज में चल रही ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक का विरोध किया है। उन्होंने यह कहा कि सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मुद्दे पर सुनवाई हो रही है और जल्द ही फैसला आने वाला है। अब इस विषय पर यह बैठक होने का क्या औचित्य है। इसका जवाब आयोजन स्थल नदवा कॉलेज और लॉ बोर्ड को देना चाहिए। यह एनजीओ हमेशा देश के खिलाफ रहा है।

शनिवार को लखनऊ के नदवा कॉलेज में अयोध्या के मुद्दे को लेकर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक शुरू हुई। इसमें प्रगति रिपोर्ट पेश की जायेगी, जिस पर चर्चा होगी। इस बैठक में जमीअत उलमा ए हिंद के अध्यक्ष मौलाना अरशद मदनी, मौलाना महमूद मदनी, ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य मौलाना खालिद रशीद, महासचिव मौलाना वली रहमानी, सचिव जफरयाब जिलानी, मौलाना नदवी, मौलाना अजीज सटकली व मौलाना खालिद सैफुल्लाह रहमान मौजूद हैं। हालांकि मीडिया के अंदर जाने पर रोक लगा दी गई है।

इसको लेकर मोहसिन रजा ने कहा कि मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड एक असंवैधानिक एनजीओ है। उन्होंने कहा कि यह ऐसा एनजीओ है, जो हमेशा से देश के खिलाफ काम करता और बोलता रहता है। इसने मुसलमानों को गुमराह करने का काम किया है। यह एनजीओ हमेशा से आतंकवाद का समर्थक रहा है। इसकी जांच करवाई जायेगी कि आखिरकार इसे फंडिंग कौन कर रहा है।

Share it
Top