नहर फटने से गांवों में घुसा पानी, पावर हाउस भी जलमग्न,15 गांवों में बिजली सप्लाई ठप्प

नहर फटने से गांवों में घुसा पानी, पावर हाउस भी जलमग्न,15 गांवों में बिजली सप्लाई ठप्प

दर्जनों गांवों में भी मचा हाहाकार

हमीरपुर। उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले में मूसलाधार बारिश से कई किमी लम्बी नहर के फट जाने से पावर हाउस में कई फीट पानी भर गया, जिससे एक दर्जन गांवों की बिजली गुल हो गयी है। पावर हाउस के कर्मचारी जान बचाकर भागे। इसकी मशीनें पानी में डूब गयी हैं । बिजली सप्लाई ठप्प होने से हजारों ग्रामीणों में हाहाकार मचा हुआ है। नहर का कई गांवों में भी पानी भर गया है, जिससे लोगों में अफरातफरी मची हुई है। प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गये हैं । यहां के अधीक्षण अभियंता एसडी सिंह ने रविवार को बताया कि नहर फटने से पावर हाउस जलमग्न हुआ है, जिसके कारण एहतियाती तौर पर बिजली की सप्लाई बंद की गयी है।

जिले के सरीला तहसील क्षेत्र के ममना गांव में तैंतीस केवीए पावर हाउस से 15 गांवों को बिजली आपूर्ति की जाती है। यह पावर हाउस कुछ ही साल पहले बनाया गया था। लगातार हो रही बारिश के कारण राठ गोहांड से निकली कई किमी लम्बी नहर उफना गयी, जिससे नहर फट जाने से कई गांवों में पानी घुस गया है। ममना में बना पावर हाउस भी जलमग्न हो गया है।

सरीला के एसडीओ एसपी मिश्रा ने रविवार को बताया कि गोहांड से निकली नहर फट जाने से इसका पानी पहले तालाब में भरा फिर तालाब उफना जाने से पावर हाउस के अंदर बाहर पानी कई फीट भर गया है। समय रहते बिजली सप्लाई बंद कर दी गयी वर्ना बहुत बड़ा हादसा हो सकता था। पावर हाउस के चारों ओर पानी कई फीट भर जाने से कर्मचारियों को सुरक्षित स्थान पर जाना पड़ा।

उन्होंने बताया कि जेसीबी मशीन से जल निकासी के लिये प्रयास किये गये तो गांव के लोगों ने मना कर दिया है। क्योंकि गांव भी पानी से जलमग्न हो सकता है। इस मामले को लेकर सरीला के तहसीलदार अन्य अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंच गये हैं। नहर का पानी रोकने के लिये प्रयास किये जा रहे हैं । इधर अधीक्षण अभियंता एसडी सिंह ने बताया कि किसी अनहोनी से बचने के लिये पावर हाउस से विद्युतापूर्ति बंद करायी गयी है। जल निकासी के इंतजाम कराये जा रहे हैं ।


Share it
Share it
Share it
Top