बीमारी से तंग युवक कुएं में कूदा, 12 घंटे बाद भी नहीं निकाला जा सका शव

बीमारी से तंग युवक कुएं में कूदा, 12 घंटे बाद भी नहीं निकाला जा सका शव

कानपुर। जनपद के बिठूर थानाक्षेत्र में बीमारी से तंग राजमिस्त्री ने कुएं में कूदकर मौत को गले लगा लिया। मामले की जानकारी पर पहुंची पुलिस को कुएं में पानी होने के चलते शव निकालने में दिक्कत आ रही है। फिलहाल कांटा डालकर शव निकालने की कोशिश जारी है।

बिठूर के टिकरा कुशल पुरवा गांव में रहने वाले राज कुमार कमल (40) राजमिस्त्री का काम करता था। परिवार में पत्नी रुबी, छह माह की बेटी खुशी, दादी महराना व छह भाईयों में सबसे बड़े था। शुक्रवार की देर रात वह अचानक घर से निकल गया और गांव के बाहर जाने लगा। काफी देर तक न लौटने पर पत्नी ने पति की तलाश शुरु की।

इस बीच पूछते हुए पत्नी गांव से के बाहर पहुंची तो उसे एक महिला ने कुछ दूरी पर होने की जानकारी दी। जिस पर वह ग्रामीणों के साथ पति को लेने पहुंची तो पति एक कुएं में कूद गया। कुएं में पानी होने के चलते ग्रामीण उसे निकाल नहीं सके। शनिवार को जानकारी पर पहुंची बिठूर थाने की पुलिस ने ग्रामीणों की मद्द से कुएं में कूदे राजमिस्त्री को निकालने का प्रयास किया, लेकिन कुएं में चालीस फीट तक पानी होने के चलते शव को निकाला नहीं जा सका।

बिठूर थानाध्यक्ष विनोद कुमार सिंह ने बताया कि पूछताछ में पता चला है कि कुएं में कूदा राजमिस्त्री तीन साल से गंभीर बीमारी से परेशान चल रहा है। जिसके चलते उसने परिजनों व ग्रामीणों के सामने ही देर रात कुएं में कूद गया। शव निकालने के लिए कुएं में कांटा डाला गया है, लेकिन शव निकालने में दिक्कत आ रही है। प्रयास जारी है। फिलहाल करीब 12 घंटे से अधिक देरी के बाद भी शव कुएं से नहीं निकला जा सका है। हालांकि इस बीच कांटे में फंसकर कुएं में कूद राजमिस्त्री के कपड़े जरुर आ गये हैं।


Share it
Top