मुठभेड़ कर लूट की कार समेत फरार सरगना गिरफ्तार

मुठभेड़ कर लूट की कार समेत फरार सरगना गिरफ्तार


-स्वाट व पुलिस की संयुक्त टीमों ने घेराबंदी कर लूटेरे को पकड़ने में मिली कामयाबी
कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर जनपद में सवारी बनकर कार लूटने वाले गिरोह के सरगना को पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान धर दबोचा। पुलिस की गोली लगने से घायल सरगना के पैर में गोली लगी है। घायल हालत में पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराते हुए कार्यवाही शुरू कर दी है।
ओला कार बुकिंग कर लूटने वाले गिरोह के दो सदस्यों को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अखिलेश कुमार मीणा के स्वाट टीम प्रभारी प्रदीप सिंह ने रायपुरवा पुलिस के साथ मंगलवार को दबोच लिया था। उनसे पुलिस को पूछताछ में गिरोह के सरगना राजेश कुमार उर्फ अजय उर्फ छोटू के होने की जानकारी हुई। जिसके बाद स्वाट प्रभारी उसकी लोकेशन में जुट गये। बीती देर रात उन्हें लूट की कार के साथ फरार सरगना की लोकेशन रेलबाजार थानाक्षेत्र स्थित सुजातगंज के पास जंगलों में होने की मिली।
सूचना मिलते ही आधार पर स्वाट प्रभारी ने पुलिस अधीक्षक पूर्वी अनुराग आर्या को जानकारी दी। उन्होंने कैंट पुलिस उपाधीक्षक अजीत प्रताप सिंह चौहान के नेतृत्व में रेलबाजार सहित कई थानों की फोर्स को स्वाट प्रभारी के साथ लुटेरे गिरोह के सरगना को पकड़ने के लिए टास्क दिया। टास्क के तहत पुलिस ने आधी रात को जंगलों में लुटेरे की घेराबंदी कर ली। पुलिस से घिरने की भनक लगते ही लुटेरे राजेश कुमार उर्फ अजय उर्फ छोटू ने पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी। जिसमें स्वाट प्रभारी बाल-बाल बच गये।
जवाब में पुलिस व स्वाट प्रभारी ने मोर्चा संभालते हुए कार्यवाही की। मुठभेड़ के दौरान टीम की गोली लुटेरे के पैर पर जा लगी। जिसके बाद वह साथियों के साथ अंधेरे में जंगलों की ओर भागने लगा, लेकिन टीम ने घेराबंदी कर उसे दबोच लिया। हालांकि उसके अन्य साथी भाग निकले। पुलिस ने दाहिने पैर में लगी गोली से घायल लुटेरे गिरोह के सरगना को हैलट अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसका इलाज शुरू हुआ। एसपी पूर्वी ने बुधवार सुबह बताया कि लूट की इंडिगो कार बरामद कर ली गई है। गिरोह का सरगना को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके कब्जे से तमंचा व कई कारतूस बरामद हुए हैं। अस्पताल में उसकी निगरानी में पुलिस टीम लगी है। डाक्टरों की रिपोर्ट के आते ही उसे जेल भेज दिया जाएगा।
बताते चलें कि, बीते गणतंत्र दिवस के मौके पर गिरफ्तार सरगना राजेश कुमार उर्फ अजय उर्फ छोटू अपने साथियों के साथ ओला कार लखनऊ ले जाने के लिए बुक की थी। रास्ते में बदमाशों ने चालक को घायल कर कार व उसका मोबाइल नकदी आदि लूटकर फरार हो गये थे। कार मालिक की तहरीर पर पुलिस कार लूटेरे गिरोह की तलाश में जुट गई और सरगना सहित गिरोह के तीन साथियों को गिरफ्तार करने में कामयाब हासिल की। एसपी ने बताया कि इस वारदात के अलावा गिरफ्तार लुटेरों पर लूट और हत्या के प्रयास के कई मामले दर्ज हैं।

Share it
Top