उपचुनाव: बूथ पर भिड़े भाजपा और कांग्रेस के समर्थक,कांग्रेस उम्मीदवार ने भाजपा पर सत्ता के दुरुपयोग का लगाया आरोप

उपचुनाव: बूथ पर भिड़े भाजपा और कांग्रेस के समर्थक,कांग्रेस उम्मीदवार ने भाजपा पर सत्ता के दुरुपयोग का लगाया आरोप


- , आलाधिकारियों ने समझाया

कानपुर। गोविन्द नगर विधानसभा चुनाव में प्रशासन की लाख तैयारियों के बावजूद मतदान के दिन भाजपा और कांग्रेस के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गये। मामला बढ़ता देख कांग्रेसियों ने उम्मीदवार को जानकारी दी। जानकारी पर पहुंची उम्मीदवार करिश्मा ठाकुर ने प्रशासनिक अधिकारियों को अवगत कराया। कार्रवाई न होता देख करिश्मा ने भाजपा पर सत्ता के दुरुपयोग का आरोप लगा दिया।

गोविंदनगर विधानसभा क्षेत्र में सोमवार की सुबह सात बजे से 349 बूथों पर मतदान जारी है। बर्रा-4 में बूथ पर कांग्रेस और भाजपा महिला समर्थकों में हाथापाई हो गई। दोनों पार्टी के पुरुष समर्थकों के आने से माहौल तनावपूर्ण हो गया। बताया जा रहा है कि बर्रा-4 के बूथ के बाहर कांग्रेस के बस्ते पर एनएसयूआई की कार्यकर्ता बिट्टू और सोनिया बैठी थीं। इस बीच भाजपा महिला कार्यकर्ता बूथ के अंदर जा रही थीं। इस पर कांग्रेस की कार्यकर्ताओं ने रोका तो उनमें बहस शुरु हो गई। दोनों पार्टी की कार्यकर्ताओं के बीच हाथापाई होते देखकर भीड़ लग गई। जानकारी होते ही भाजपा के पुरुष कार्यकर्ताओं भी आ गए। कांग्रेस समर्थक महिलाओं का आरोप है कि भाजपा पुरुष कार्यकर्ताओं ने भी उनसे हाथापाई की। बूथ पर तनावपूर्ण माहौल बनने पर सीओ भगवान सिंह पहुंच गए और दोनों पक्षों को समझाकर शांत कराया और मतदान ड्यूटी पर लगे दरोगा और पुलिस कर्मियों को डांट लगायी। कांग्रेसियों का आरोप है कि पुलिस जेल भेजने की बात कहकर दबाव बनाने का प्रयास कर रही थी। मामले की जानकारी के बाद कांग्रेस उम्मीदवार करिश्मा ठाकुर भी बूथ पर पहुंच गई। उन्होंने कार्यकर्ताओं से जानकारी के बाद निर्वाचन अफसरों से भी बातचीत की। कांग्रेस उम्मीदवार करिश्मा ठाकुर ने कहा है कि कांग्रेस का बर्रा में बूथ पर महिला कार्यकर्ता थे और परिवार के लोग थे। भाजपाई ने देखा जनता का रुझान कांग्रेस और करिश्मा ठाकुर की तरफ है तो बौखला गए। आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपाइयों ने कांग्रेसी महिलाओं से मारपीट की, उन्हें नोचा और बाल पकड़कर घसीटा और अभद्रता की। आरोप लगाया कि भाजपा के लोग सत्ता का पूरा दुरुपयोग कर रहे हैं। पुलिस ने भी शिकायत पर कोई मदद नहीं की। जिसके बाद जिलाधिकारी से शिकायत की गयी लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। जब मैं खुद मौके पर पहुंची तो जिलाधिकारी आए। मैने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को समझाया लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। वहीं भाजपा उम्मीदवार सुरेन्द्र मैथानी ने कांग्रेस उम्मीदवार के आरोपों को निराधार बताया।

Share it
Top