डिमांड पूरी नहीं हुई तो नाबालिग बेटे ने शिव लिंग से की हत्या

डिमांड पूरी नहीं हुई तो नाबालिग बेटे ने शिव लिंग से की हत्या

घटना के बाद आरोपित मौके से फरार, घटना से बूढ़ी दादी भी बदहवास


हमीरपुर। जिले में एक नाबालिग बेटे ने मंदिर से शिव लिंग उठाकर अपने ही पिता के सिर पर हमला कर दिया, जिससे पिता की मौत हो गयी। शराब के नशे में धुत्त पिता ने इकलौते बेटे की डिमांड पूरी करने से इंकार किया था। पुलिस ने रविवार को शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा है।

जिले के सुमेरपुर थाना क्षेत्र के देवगांव निवासी जगत सिंह (52) पचास बीघे जमीन का काश्तकार था। उसकी पत्नी की करीब दस साल पहले मौत हो गयी थी। जगत सिंह अपनी बूढ़ी मां पान कुंवर (80) व इकलौते पुत्र अंकित सिंह (14) के साथ घर पर रहता था। बताते है कि अंकित सिंह ने कक्षा आठवीं तक की पढ़ाई की हैं। इसके बाद वह आगे की पढ़ाई नहीं कर पाया। जगत सिंह शराब पीने का आदी थी। बताते है कि पिछले कई दिनों से अंकित सिंह अपने पिता से एक मोटरसाइकिल खरीदवाने के लिये कह रहा था लेकिन पिता ने उसकी डिमांड पूरी करने से साफ मना कर दिया था।

शनिवार की देर रात घर के सामने मंदिर के पास जगत सिंह नशे में था तभी अंकित सिंह का विवाद हो गया। गुस्से में आकर अंकित सिंह ने मंदिर में रखे शिव लिंग को उठाकर पिता के सिर पर वार कर दिया जिससे वह लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ा। घटना के बाद अंकित सिंह मौके से भाग गया। गांव के लोग गंभीर रूप से घायल जगत सिंह को इलाज के लिये नजदीक के सरकारी अस्पताल ले जा रहे थे कि रास्ते में उसकी मौत हो गयी। इस घटना से बूढ़ी मां सदमे में हैं। घटना की सूचना पाकर रविवार को पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा है।

ग्राम प्रधान प्रतिनिधि गोपाल सिंह ने रविवार को सुबह बताया कि जगत सिंह सम्पन्न लोगों में था। इसका इकलौता पुत्र भी कुछ नहीं करता था। किसी बात को लेकर विवाद होने पर जगत सिंह की सिर पर चोट लगने से मौत हो गयी है। उन्होंने बताया कि इस परिवार में अब एक बूढ़ी मां बची है जो घटना के बाद बदहवाश है। सुमेरपुर थाने के प्रभारी निरीक्षक गिरेन्द्र पाल सिंह ने बताया कि पिता पुत्र के बीच विवाद हुआ था जिससे जगत सिंह की मौत हो गयी है। आरोपित अंकित सिंह फरार है जिसकी तलाश करायी जा रही है।


Share it
Top