विष्णुपुरी लूटकांड: मुख्य आरोपित इनामी बदमाश मुठभेड़ में बहनोई समेत गिरफ्तार

विष्णुपुरी लूटकांड: मुख्य आरोपित इनामी बदमाश मुठभेड़ में बहनोई समेत गिरफ्तार


कानपुर। जनपद के नवाबगंज थानाक्षेत्र में यूपीसीए निदेशक की बेटी के घर लूट के मामले में पुलिस ने गुरुवार देर रात मुठभेड़ में 25 हजार के इनामी मुख्य आरोपित और उसके बहनोई को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस अधीक्षक पश्चिम संजीव सुमन ने शुक्रवार को बताया कि बीते दिनों नवाबगंज इलाके में अकेले रहने वाली यूपीसीए निदेशक एस.के. अग्रवाल की बेटी अनीता मित्तल के साथ लूटपाट की घटना अंजाम दी गई थी। घटना के दौरान लुटेरे ने उन पर जानलेवा हमला भी किया था। इस घटना को नौकरों के साथ मिलकर 25 हजार के इनामी शातिर बदमाश ज्योरा निवासी अभिषेक ने अंजाम दिया था। जांच में सीसीटीवी के जरिये पुलिस बदमाशों तक पहुंची और बीते बुधवार को घटना का खुलासा किया। घटना में पुलिस ने तीन महिलाओं, दो नाबालिग बच्चों के साथ सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया। लेकिन मुख्य अभियुक्त व इनामी मास्टर माइंड अभिषेक को लगातार लोकेशन बदलने के चलते पकड़ा नहीं जा सका।

एसपी पश्चिम ने बताया कि बीती रात नवाबगंज इंस्पेक्टर दिलीप कुमार बिंद पुलिस टीम के साथ गंगा बैराज पर गश्त के साथ वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। तभी करबला चौराहे की तरफ से एक मोटरसाइकिल पर दो युवक आते दिखाई दिये। उन्हें पुलिस टीम ने जैसे ही रुकने का इशारा किया तो वह मुड़कर बिठूर मार्ग की ओर भागने लगे। संदिग्ध होने पर पुलिस टीम ने पीछा किया। इस दौरान बदमाशों की मोटरसाइकिल फिसल गई और गिरने पर उन्होंने फायरिंग शुरु कर दी। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में एक बदमाश के दाहिनें पैर में गोली लगी और वह घायल हो गया। घेराबंदी के चलते दोनों बदमाश पकड़े गये।

एसपी पश्चिम के मुताबिक गिरफ्तार बदमाशों में यूपीसीए निदेशक की बेटी से लूटकांड का मुख्य आरोपित 25 हजार का इनामी अभिषेक और उसका बहनोई हरदोई जनपद के मल्लावां निवासी नन्हे लाल हैं। इनके कब्जे से एक तमंचा, कई कारतूस व लूट का माल बरामद हुआ है। घायल बदमाश को पुलिस अभिरक्षा में हैलट अस्पताल में भर्ती कराते हुए आगे की कार्रवाई की जा रही है।


Share it
Top