कांशीराम कालोनी की बिजली गुल, सैकड़ों महिलाओं ने हल्ला बोला

कांशीराम कालोनी की बिजली गुल, सैकड़ों महिलाओं ने हल्ला बोला

-बिजली विभाग के उपखण्ड कार्यालय में घुसकर डेरा डालकर किया हंगामा

-तीन कांशीराम कालोनियों के गरीब बाशिन्दों पर करोड़ों की बकायेदारी

हमीरपुर। उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले में कांशीराम कालोनी की 90 लाख रुपये की बकायेदारी में बिजली गुल किये जाने से गुरुवार को सैकड़ों परिवार गुस्से से भड़क गये और बच्चों समेत विद्युत विभाग के उपखण्ड कार्यालय में हल्ला बोलकर डेरा डाल दिया है। महिलाओं ने हंगामा भी शुरू कर दिया। घटना की जानकारी होते ही पुलिस मौके पर पहुंची और गरीब परिवारों को समस्या का समाधान कराने का आश्वासन देकर सभी को कार्यालय से बाहर किया। करीब एक घंटे तक चले हंगामा के कारण कर्मचारी और अभियंता डर के मारे इधर उधर हो गये।

जिले के मौदहा कस्बे के छिमौली रोड स्थित गरीबों के लिये कई दशक पहले कांशीराम कालोनी बनायी गयी थी। इस कालोनी में सैकड़ों गरीब रहते है। कालोनी के बाशिन्दों को बिजली के कनेक्शन भी जारी है लेकिन किसी ने आज तक बिजली के बिल का भुगतान नहीं किया है। लाखों रुपये की बकायेदारी को लेकर उपखण्ड अधिकारी विद्युत ने पूरे कांशीराम कालोनी की बिजली ही गुल कर दी है। इस कार्रवाई से कालोनी के सैकड़ों बाशिन्दे आक्रोश हो गये। महिलायें अपने बच्चे और परिवार समेत कालोनी से जुलूस बनाकर सीधे मौदहा तहसील स्थित बिजली विभाग के उपखण्ड अधिकारी के कार्यालय पहुंची और हल्ला बोलते हुये कार्यालय के सभी कमरों में बच्चों सहित महिलाओं ने डेरा डाल दिया।

उपखण्ड अधिकारी के कक्ष में भी तमाम महिलायेें जमीन पर लेट गयी। अचानक भीड़ के कार्यालय में घुसकर डेरा डालने से अधिकारी, अभियंता और कर्मचारियों में अफरातफरी मच गयी। उपखण्ड अधिकारी ने महिलाओं को कार्यालय से बाहर जाने को कहा तो महिलाओं ने हंगामा शुरू कर दिया। महिलाओं ने नारेबाजी करते हुये कहा कि जब तक कालोनी में बिजली आपूर्ति नहीं होती तब तक कोई भी कार्यालय से बाहर नहीं जायेगा। घटना की सूचना पुलिस को दी गयी जिस पर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक विक्रमाजीत सिंह फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। प्रभारी निरीक्षक ने महिलाओं को समझाते हुये आश्वासन दिया कि वह सभी के घरों में विद्युतापूर्ति करायेंगे। इस आश्वासन के बाद महिलाओं ने कार्यालय छोड़ा। नगर पालिका परिषद मौदहा के सभासद फरीद बाबा ने बताया कि कालोनी के बाशिन्दे आर्थिक रूप से कमजोर है। विद्युत विभाग के अधिकारियों को इनके बिलों में कुछ रियायत दे दे तो ये परिवार किश्तों में बिल जमा कर सकते है। उपखण्ड अधिकारी विद्युत ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुये मौके पर पहुंचकर मामले की जांच की जायेगी। जनता के हित के लिये जो भी संभव होगा वह प्रयास किये जायेंगे।

पावर कारपोरेशन के अधिशाषी अभियंता सुमित कुमार व्यास ने बताया कि मौदहा में कांशीराम कालोनी पर इस समय 90 लाख रुपये बिजली बिल का बकाया है। जब से कालोनी बनी है तभी से एक भी बिल किसी ने नहीं जमा किया है। उन्होंने बताया कि हमीरपुर में भी कांशीराम कालोनी के बाशिन्दों पर डेढ़ करोड़ रुपये की बकायेदारी है। कई बार नोटिसें जारी की जा चुकी है लेकिन कोई भी बकायेदार बिल का भुगतान नहीं जमा कर रहा है। इसीलिये बकायेदारी पर ये कार्रवाई की गयी है।


Share it
Top