मुझे दो इनाम-मुझे पता है कहां हैं राहुल गांधी: एमएलसी

मुझे दो इनाम-मुझे पता है कहां हैं राहुल गांधी: एमएलसी


अमेठी। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में 4 दिन पूर्व उनके लापता होने को लेकर हुए पोस्टर वार पर सियासत तेज़ हो गई है। राहुल को लेकर लगे पोस्टर के जवाब में राहुल गांधी के नज़दीकी कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह ने एक ट्विटर के ज़रिए पलटवार किया है। ट्वीट में एमएलसी ने लिखा है मुझे दो इनाम-मुझे पता है कहां हैं राहुल गांधी। मंगलवार राहुल गांधी के लापता होने के लेकर अमेठी में जगह-जगह पोस्टर लगाए गए थे, जिसमे राहुल गांधी को ढूंढ़कर कर लाने वाले को इनाम देने वालों की बात लिखी गई थी।
अपने ट्विटर के टाइमलाइन पर एमएलसी दीपक सिंह ने पूरे देश में राहुल गांधी की सक्रियता का जिक्र किया है, वहीं उन्होंने केन्द्र और यूपी की बीजेपी सरकार के खिलाफ जमकर भड़ास भी निकाली है। एमएलसी दीपक सिंह ने अपने ट्विटर वाल पर पोस्ट किए। पोस्टर में जिक्र करते हुए लिखा कि 'मैं मीडिया में देखता हूं कि राहुल गांधी पूरे देश में सक्रिय हैं, वो अमेठी के साथ हमेशा नज़र आते हैं।' इसके बाद उन्होंने राहुल गांधी के बचाव बीजेपी पर हमलावर होते हुए क्रम से ये 10 बातें लिखी।
- राजस्थान-गुजरात-आसाम में बाढ़ पीड़ितों के साथ हैं राहुल गांधी।
- मध्यप्रदेश के मंदसौर में गोली खा रहे पीड़ित किसानों के साथ हैं राहुल गांधी।
- विदर्भ में आत्महत्या कर रहे किसान परिवारों के साथ हैं राहुल गांधी।
- कर्ज़माफी की मांंग कर रहे तमिलनाडु के किसानों के साथ हैं राहुल गांधी।
- वन रैंक वन पेंशन पर दर्द झेल रहे देश के सैनिकों के साथ हैं राहुल गांधी।
- हैदराबाद/दिल्ली समेत सभी पीड़ित छात्रों के साथ हैं राहुल गांधी।
- पूरे देश में गरीब, मज़दूर,बेरोज़गारों के साथ हैं राहुल गांधी।
- उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में दंगा पीड़ित परिवारों के साथ हैं राहुल गांधी।
- लोकतंत्र के हत्यारों के खिलाफ हैं राहुल गांधी।
- हर पीड़ित, शोषित,सताए जा रहे लोगों की आवाज़ पूरे देश में बुलंद कर रहे हैं राहुल गांधी।
एमएलसी के ट्विटर वाल पर लगे पोस्टर पर यदि गौर करें तो आखिर में राहुल गांधी के बचाव में काफी आक्रमक रुख अपनाते नज़र आए। उन्होंने लिखा कि फिर भी कुछ कुंठित मानसिकता एवं रूढ़-विरोधी प्रवृति के लोगों को राहुल गांधी नज़र नहीं आ रहे। उनके लिए वो अपने आवास 12 तुगलक लेन नई दिल्ली पर उपलब्ध हैं। यदि फिर भी राहुल गांधी नज़र नहीं आते तो मैं उस व्यक्ति का इलाज अमेठी के नेत्र चिकित्सालय में निःशुल्क कराऊंगा।
आठ अगस्त को अमेठी के कांग्रेस कार्यालय के सामने राहुल गांधी के लापता होने के पोस्टर लगे हुए पाए गए थे। उक्त पोस्टर में लिखा था कि 'माननीय सांसद राहुल गांधी अमेठी से लापता हैं'। जिसके कारण सांसद द्वारा कराए जाने वाले विकास कार्य इनके कार्यकाल में ठप हैं। पोस्टर में लिखा गया है कि राहुल गांधी के व्यवहार से अमेठी की आम जनता ठगा हुआ और अपमानित महसूस कर रही है।

Share it
Top