अटल का कृतित्व एवं व्यक्तित्व हम सबके लिए प्रेरणा स्त्रोत:योगी

अटल का कृतित्व एवं व्यक्तित्व हम सबके लिए प्रेरणा स्त्रोत:योगी


गोरखपुर।उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 अटल बिहारी वाजपेयी का कृतित्व एवं व्यक्तित्व हम सबके लिए प्रेरणा स्त्रोत है।योगी ने रविवार को यहां आयोजित अटल स्मृति काव्यांजलि कार्यक्रम में उनके चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 वाजपेयी के एक माह पूर्ण होने पर मासिक श्रद्धांजलि का कार्यक्रम प्रदेश के 403 स्थानों पर तथा देश के 4300 स्थानों पर आयोजित हुआ है और इसी क्रम में गोरखपुर में अटल स्मृति काव्यांजलि का आयोजन किया जा रहा है।

उन्होंने कवियों द्वारा अपने स्वरों में पिरो कर कविताओं की प्रस्तुतिकरण पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उनकी सराहना की। उन्होंने कहा कि श्रद्धेय अटल के जीवन में राष्ट्र प्रेम, संभाव, देश सेवा आदि के जो भाव नीहित रहे उसके पीछे उनमें बसा हुआ कवि हृदय प्रमुख था।उन्होंने कहा कि स्व0 वाजपेयी की मृत्यु की खबर जैसे ही लोगों को 16 अगस्त को मिली विभिन्न पार्टी के लोगों, समाज के विभिन्न क्षेत्रों में कार्य करने वाले लोगों ने अपनी अपनी श्रद्धांजलि दी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अटल जी का हमेशा यही प्रयास रहता था कि शासन की योजनाएं आम जन तक पहुंचे और उनको इसका लाभ मिले, इसके पीछे भी उनका कवि हृदय था। अटल जी सार्वजनिक जीवन से लगभग 11 वर्ष दूर रहे, किसी भी कार्यक्रम में भाग भी नही लिया लेकिन उनकी मृत्यु पर हर व्यक्ति दुखी हुआ यह उनके महान व्यक्तित्व की पहचान है। इस अवसर पर विधायक डा0 राधामोहन दास अग्रवाल ने कार्यक्रम के उद्देश्य पर विस्तार से प्रकाश डाला।

कविता पाठ करने वाले कवियों में पी.एन. श्रीवास्तव, अर्चना मालवीया, नरसिंह माधव चन्द, प्राचि राज, राकेश राज, अर्चना वर्मा, चारू सिंह, चेतना पाण्डेय एंव प्रज्ञा आदि शामिल रहे। मुख्यमंत्री ने काव्यांजलि कार्यक्रम में उपस्थित कवियों को अंगवस्त्रम भेंटकर सम्मानित भी किया।


Share it
Top