लोनी में मकान में लगी आग, बाप की मौत, बेटा गंभीर रूप से झुलसा

लोनी में मकान में लगी आग, बाप की मौत, बेटा गंभीर रूप से झुलसा


गाजियाबाद| लोनी थाना क्षेत्र स्थित डीएलएफ अंकुर विहार कॉलोनी में शनिवार की रात ई ब्लॉक की एक बिल्डिंग में भीषण आग लग गयी जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गयी जबकि उसका पुत्र गंभीर रूप से झुलस गया । फायर ब्रिगेड की तीन गाड़ियों ने मौके पर पहुंचकर करीब डेढ़ घंटे के प्रयास के बाद आग पर काबू पाया । पुलिस के अनुसार आग शार्ट सर्किट के कारण लगी है । लोनी इलाके में आग के कारण अभी तक तीन लोगों की मौत हल के दिनों में हो चुकी है, लेकिन बिजली निगम के अधिकारी इसपर ध्यान नहीं दे रहे हैं ।

लोनी थाना प्रभारी ने बताया कि 50 वर्षीय सुनील कुमार डीएलएफ अंकुर विहार कालोनी के इ ब्लॉक में मकान में रहते थे । शनिवार की रात में सुनील कुमार व उनके परिवार के सदस्य सो रहे थे, तभी अचानक मीटर बॉक्स में लगी आग पूरे बिल्डिंग में फैल गई। देखते ही देखते आग ने भीषण रूप धारण कर लिया। हालांकि चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोग भी वहां पहुंच गए और आग पर काबू पाने की कोशिश की लेकिन आग को बेकाबू होते देख उन्होंने पुलिस में दमकल को उसकी सूचना दी। सूचना पर दमकल की 3 गाड़ियां मौके पर पहुंची और आग पर काबू पाया । इस दौरान सुनील कुमार व उनका पुत्र रोहित गंभीर रूप से झुलस गए, जिसमें बाद में सुनील कुमार की मौत हो गई जबकि रोहित को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस हादसे से बाद पूरी कालोनी में मातम पसरा हुआ है ।

लापरवाह बिजली निगम ,15 दिनों में तीसरी मौत

स्थानीय लोग इस हादसे के लिए बिजली निगम को दोषी मान रहे हैं । उनका कहना है कि जहाँ कोई बिजली चोरी नहीं है, वहाँ सारे वायर के डब्बे में ताला लगाया हुआ है। आज अगर डब्बा बन्द नहीं होता तो शायद इतनी बड़ी घटना नहीं होती। लोगों का कहना है कि बिजली घर का रवैया भी काफी गैरजिम्मेदाराना था और जानकारी देने के बाद भी फीडर की लाइट काफी देर तक नहीं काटी गई। लोगों का कहना कि संबंधित बिजली निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए ।


Share it
Top