अयोध्या में सरयू लाल निशान के करीब, बाढ के खतरे से ग्रामीण दहशत में

अयोध्या में सरयू लाल निशान के करीब, बाढ के खतरे से ग्रामीण दहशत में

अयोध्या। उत्तर प्रदेश की धार्मिक नगरी अयोध्या में सरयू नदी के जल स्तर में हो रही बढ़ोत्तरी से तटीय क्षेत्र में बसे लोगों की परेशानियां लगातार बढ़ रही हैं। सरयू का जलस्तर खतरे के लाल निशान से मात्र 25 सेंटीमीटर दूर रह गया है। एक ओर जहाँ बढ़ते जलस्तर और कटान से तटीय क्षेत्र के नदी में समा गये हैं वहीं अब सरयू का रुख गाँव की तरफ बढऩे लगा है। प्रशासन भी बाढ़ से निपटने के लिये कमर कसने का दावा कर रहा है। बाढ़ चौकियां सतर्क कर दी गयी हैं। ग्रामीणों को बाढ़ से सुरक्षा और बचाव के तरीके बताये जा रहे हैं। आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सरयू का जलस्तर प्रतिघंटा दो सेंटीमीटर बढ़ रहा है। जलस्तर बढऩे के हालात ऐसी ही रही तो अगले 24 घंटों में सरयू खतरे के लाल निशान को पार कर जायेगी। सरयू के बढ़ते जलस्तर और कटान से नदी के किनारे बने घाटों की सुरक्षा के लिये भी प्रशासन सतर्क हो गया है। जिले के तटीय इलाकों में सरयू नदी के जलस्तर में तेजी से बढ़ोत्तरी हो रही है। नदी के पानी से कटान तेजी से हो रहा है जिसकी वजह से नदी के किनारे के खेत पानी में डूब गये हैं। जानवरों के चारे के लिये बोई गयी खड़ी फसल बाढ़ के पानी से तबाह हो रही है। तटीय क्षेत्रों रुदौली, सोहावल, अयोध्या, पूराबाजार, मयाबाजार, दिलासीगंज, महबूबगंज आदि क्षेत्रों में नदी के किनारे बसे इलाकों में भी बाढ़ का पानी आ सकता है। केन्द्रीय जल आयोग के मुताबिक पहाड़ी क्षेत्रों में हो रही बारिश और नेपाल द्वारा छोड़े गये पानी के कारण सरयू नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है और यह पूर्वानुमान के मुताबिक आने वाले 38 घंटे में नदी का जलस्तर ऐसे ही बढ़ता रहेगा।

Share it
Share it
Share it
Top