UP पुलिस के सिपाही ने गोली मारकर की आत्महत्या,एसओजी में तैनात था

UP पुलिस के सिपाही ने गोली मारकर की आत्महत्या,एसओजी में तैनात था

बुलंदशहर।नगर कोतवाली में तैनात एक सिपाही की सोमवार को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। इस घटना के पीछे पारिवारिक तनाव कारण बताया जा रहा है। मृतक सिपाही बागपत जनपद का रहने वाला था। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

बागपत जनपद के खेकड़ा कस्बे के पट्टी रामपुर निवासी शेर सिंह धामा वर्ष 2011 में पुलिस में भर्ती हुए थे। तीन अगस्त 2019 को शेर सिंह की पोस्टिंग कानपुर नगर से बुलंदशहर जनपद हुई थी। बुलंदशहर पुलिस लाइन से उन्हें खुर्जा थाने में भेजा गया था। 19 सितंबर 2019 को खुर्जा थाने से शेर सिंह की पोस्टिंग नगर कोतवाली में हुई। शेर सिंह इस समय कोतवाली में सर्विलांस का काम देख रहे थे और कोतवाली से कुछ ही दूरी पर स्थित एक सरकारी आवास में रह रहे थे।

सोमवार को सिपाही शेर सिंह धामा ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस में हड़कंप मच गया। आननफानन में एसएसपी संतोष कुमार सिंह, एसपी सिटी अतुल कुमार श्रीवास्तव आदि मौजूद पर पहुंच गए और जांच शुरू की। जांच में पता चला कि 23 अक्टूबर से मृतक सिपाही का फुफेरा भाई विपुल उर्फ दीपू पुत्र सुबोध निवासी खेकड़ा भी उनके साथ रह रहा था। सिपाही की एक बेटी और एक बेटा है। उसके परिजनों को सूचना दे दी गई है। पुलिस की फॉरेंसिक टीम ने मौके से फिंगर प्रिंट लेकर जांच के लिए भेज दिए। बताया जाता है कि पारिवारिक तनाव के कारण सिपाही ने इस घटना को अंजाम दिया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। एसएसपी का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।

Share it
Top