बुलन्दशहर में हुआ अजीबोगरीब वाक्या....थानेदारों पर रौब जमाकर ठगी करने वाला थमा

बुलन्दशहर में हुआ अजीबोगरीब वाक्या....थानेदारों पर रौब जमाकर ठगी करने वाला थमा

बुलन्दशहर। बुलन्दशहर में पुलिस ने पुलिस अधिकारी बनकर थानेदारों पर रौब गांठकर ठगी करने वाले फर्जी व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अधीक्षक (नगर) डा. प्रवीन रंजन सिंह ने बताया कि कोतवाली देहात और क्राइम ब्रांच की टीम जैनपुर तिराहे पर चैकिंग पर थी। मुखबिर की सूचना के आधार पर पुलिस ने दो संदिग्ध लोगों को दबोच लिया। उन लोगों ने पकड़े जाने पर पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए निखिल शर्मा उर्फ नितिन शर्मा निवासी जैनपुर को गिरफ्तार कर लिया। उसका एक साथी अंधेरे का लाभ उठाकर भाग निकला। उन्होंने बताया कि निखिल शर्मा एक शातिर किस्म का ठग है, जो अन्तर्राज्यीय गिरोह चलाता है। उन्होंने बताया कि नितिन थाना प्रभारियों के सीयूजी नम्बर पर फोन कर अपना परिचय पुलिस अधिकारी के रूप में देता है। थाना प्रभारी के झांसे में आने पर वह बहाने बनाकर रुपए की मांग करता था। श्री सिंह ने बताया कि यह नटवरलाल अपना बैंक खाता बताकर उसके थाना प्रभारियों से धनराशि डालने का निर्देश देता था। थाना प्रभारी उसकी बातों में आकर उसके खाते में पैसा डलवाते रहे। इसी साल इस ठग ने चार अगस्त को अपने को अरविंद त्यागी बताते हुए बिजनौर जिले के एक प्रभारी निरीक्षक को फोन किया और बताया कि वह मुरादाबाद में तैनात है। उसने थाना प्रभारी से अपने एकाउंट में पांच हजार रुपए डलवाने को कहा। उन्होंने बताया कि ठगी का यह मुकदमा नगीना देहात में थाने में दर्ज है। इसी प्रकार निखिल ने अमरोहा जिले के रजबपुर थाने के प्रभारी को ठगी का शिकार बनाया। पोल खुलने पर उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। श्री सिंह ने बताया वह मुजफ्फरनगर और मेरठ में ठगी के कई मामलों में जेल जा चुका है। निखिल शर्मा के विरूद्ध कोतवाली देहात में मुकदमा दर्ज करा दिया है।

Share it
Top