बुलंदशहर में महिला का शव कब्र से निकाल कर भेजा पोस्टमार्टम के लिए

बुलंदशहर में महिला का शव कब्र से निकाल कर भेजा पोस्टमार्टम के लिए


बुलंदशहर- उत्तर प्रदेश में बुलंदशहर जिले के सिकन्द्राबाद कोतवाली क्षेत्र के मौहम्मदपुर कलां में पुलिस ने सोमवार को अधिकारियों की मौजूदगी में कब्र खोदकर एक महिला के शव को बाहर निकाला और उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पुलिस सूत्रों के अनुसार कोतवाली देहात इलाके के नगला शेख निवासी हामिद अली की बेटी समरीन का निकाह छह माह पूर्व सिकन्द्राबाद कोतवाली क्षेत्र के मौहम्मदपुर कलां निवासी आमिर के साथ हुआ था। परिजनों के अनुसार 26 अप्रैल को समरीन की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी थी। ससुरालियों ने पुलिस एवं समरीन के परिजनों को इत्तला किये बिना उसके शव को सुपुर्द-ए खाक कर दिया गया था।

उन्होंने बताया कि समरीन की मौत की खबर मिलने पर उसके परिजन मौके पर पहुंचे और उन्हें सूचना दिये बगैर समरीन को सुपुर्द ए खाक करने पर आपत्ति जतायी। परिजनों ने आरोप लगाया कि दहेज के लोभी ससुराल वालों ने समरीन की हत्या कर दी और सबूत मिटाने की गरज से मायके वालों सूचना दिए बगैर उसे दफना दिया गया। पिता हामिद अली ने ससुराल वालों पर दहेज हत्या का आरोप लगाते हुए सिकन्द्राबाद कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करायी। रिपोर्ट में समरीन के पति, सास, ससुर, जेठ, जिठानी को दहेज के लिए समरीन का उत्पीड़न करने, हत्या करने और सबूत मिटाने की गरज से दफनाने का आरोप लगया गया।

पुलिस एवं प्रशासन के उच्चाधिकारियों के निर्देश पर सिकन्द्राबाद पुलिस ने मौहम्मदपुर कलां पहुंचकर तहसीलदार अमित सिंह की मौजूदगी में पुलिस ने कब्र खोदकर समरीन के शव को बाहर निकाला और उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

इस बीच देहात कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अवनीश गौतम ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर पुलिस आगे की आरोपियों पर कार्रवाई करेगी। फिलहाल इस मामले में समरीन के पिता की तहरीर पर पति समेत पांच लोगों को नामजद किया गया है।


Share it
Top