केंद्र सरकार सैनिकों को संसाधन उपलब्ध नहीं करा पा रही: ज्योतिरादित्य

केंद्र सरकार सैनिकों को संसाधन उपलब्ध नहीं करा पा रही: ज्योतिरादित्य



-यूपी की सभी लोकसभा सीटों पर कांग्रेस अकेले ही लडेगी चुनाव

झांसी। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रविवार को कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार की पूर्ण रूप से जनता विरोधी सरकार है। हमें किसानों के मामले, सहष्णिता के मामले, नौजवान के रोजगार के मामले में इस सरकार को उखाड़ कर फेंकना है। यह किसी दल को स्थापित करने के लिए नहीं, बल्कि आज देश को बचाने के लिए जरूरी है।

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया सर्किट हाउस में पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि सरकार वीर सैनिकों को वह हथियार उपलब्ध नहीं करा पा रही है, जो सैनिकों के पास होने चाहिए। कांग्रेस पार्टी उप्र की 80 लोकसभा सीटों पर अकेले ही चुनाव लड़ेगी और केन्द्र की मोदी सरकार को सत्ता से उखाड़ फेंकेगी।

ज्योतिरादित्य सिंधिया मप्र के दिनारा में आयोजित पार्टी के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए शताब्दी एक्सप्रेस से झांसी आये और सर्किट हाउस में कांग्रेसियों से मुलाकात की। हालांकि सिंधिया पहले तो मीडिया से वार्ता करने से पहरेज करते रहे, लेकिन बाद में मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी ने निर्णय किया है कि साल 2019 में हम पूरी मजबूती से लोकसभा चुनाव लड़ने से जा रहे है। हमारा मिशन है साल 2019 में लोखनमुखी सरकार केन्द्र में स्थापित करना और साल 2022 में यूपी में लोखनमुखी सरकार यूपी में स्थापित करना।

ज्योतिरादित्य ने कहा कि जब पुलवामा हमले की दुखद घटना घटी। स्वयं पीएम को उत्तर देना होगा कि घटना के वक्त पीएम जिम कार्बेट पार्क में क्या शूट कर रहे थे। आंतरिक सुरक्षा की स्थिति इससे पहले इतनी गंभीर कभी नहीं हुई है। ज्योतिरादित्य ने जनरल फिलिप कम्पोज की रिपोर्ट की बात भी कही। इसमें सैनिकों के पास संसाधनों में कई खामियां दर्शायी गई है। जो लोग अपना सब कुछ न्यौछावर करने वालों को संसाधन उपलब्ध नहीं करा पाये तो ऐसी सरकार का क्या फायदा।

ज्योतिराज सिंधिया ने कहा कि भारत देश की सुरक्षा में लगे वीर जवानों ने अपनी जान की बाजी लगाई और बलिदान दिया है। इसके बाद भी केन्द्र की मोदी सरकार उन्हें शहीद का दर्जा नहीं दे रही है। इससे बड़ी खेद और शर्म की बात कोई नहीं हैं। इसका जबाब स्वयं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को देना होगा। इस दौरान पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य, पूर्व विधायक ब्रजेन्द्र व्यास, जिलाध्यक्ष चन्द्रशेखर तिवारी, राहुल रिछारिया, युवा नेता राहुल राय, मनीराम कुशवाहा समेत दर्जनों कांग्रेसी मौजूद रहे।

कांग्रस कार्यकर्ताओं को पढ़ाया अनुशासन का पाठ

कांग्रेस कार्यकर्ताओं की अनुशासनहीनता देख प्रदेश प्रभारी ज्योतिराज सिंधिया ने नाराजगी व्यक्त की। इसके बाद उन्होंने कार्यकर्ताओं को अनुशासन में रहने का पाठ पढ़ाया। साथ ही मौके पर मौजूद कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर उन्होंने सभी से लोकसभा साल 2019 चुनाव की तैयारियों में जुटने का आह्वान किया।

चौराहे पर लगे सिंधिया वापस जाओ के नारे

रविवार को जब कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया सर्किट हाउस में कांग्रेसियों से मुलाकात कर रहे थे। तभी नगर के चर्चित इलाईट चौराहे पर एक संस्था के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने नारे बाजी करते हुए कहा कि गद्दार सिंधिया वापस जाओ-वापस जाओ। साथ ही रानी लक्ष्मीबाई अमर रहे के नारे लगाते रहे।


Share it
Top