बागपत में प्रशासन ने शुरू किया हिंडन नदी का सफाई अभियान

बागपत में प्रशासन ने शुरू किया हिंडन नदी का सफाई अभियान



बागपत।उत्तर प्रदेश में बागपत के पुरा महादेव में आज हिंडन नदी को साफ सुथरा बनाने के लिये लोगों ने बढ़-चढ़कर अपना योगदान दिया। मंडलायुक्त डॉक्टर प्रभात कुमार ने कहा कि हिंडन को उसके पुराने स्वरूप में लौटाने के उद्देश्य से निर्मल हिंडन अभियान सात जिलों मेरठ, बागपत ,गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर , सहारनपुर ,मुजफ्फरनगर ,शामली में चलाया जा रहा है। उन्होने बताया कि प्रशासन की ओर से निर्मल हिंडन अभियान के तहत सुबह हिंडन नदी पर सफाई अभियान चलाया गया। इसमें प्रशासनिक अधिकारी कर्मचारियों के साथ ग्राम प्रधान तथा ग्रामीणों ने सफाई अभियान में बढ़-चढ़कर भाग लिया।
उन्होने बताया कि सभी लोग हिंडन नदी की सफाई करते समय गौरवान्वित महसूस कर रहे थे। सफाई कर्मी संस्था के लोग नदी को निर्मल बनाने के लिए सुबह से जुट गये थे । मंडलायुक्त ने हिंडन नदी में जाकर सफाई का जायजा लिया और वह काफी देर तक नदी की सफाई करवाते रहे। लोगों ने नदी में कूदकर सफाई का कार्य में हिस्सा लिया।
मंडलायुक्त ने पृथ्वी दिवस के अवसर पर जिला वन अधिकारी अरुण कुमार मौजूद थे । उन्होने कहा कि हिंडन नदी के किनारे युद्ध स्तर पर वृक्षारोपण कराया जाए। जिससे हिंडन नदी का किनारा हरियाली से हरा भरा रहे और वातावरण शुद्ध रहे। उन्होंने कहा प्रत्येक व्यक्ति के लिए वृक्ष लगाना बहुत ही अधिक उपयोगी है।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी लोकपाल सिंह, उप जिलाधिकारी बागपत अन्नपूर्णा गर्ग, तहसीलदार राजबहादुर सिंह, जिला विकास अधिकारी हुबलाल, जिला पंचायती राज अधिकारी संजय यादव, अधिशासी अधिकारी ललित आर्य समेत कई अधिकारी हिंडन नदी को निर्मल कार्य में जुटे थे।
गौरतलब है कि यह नदी उत्तरांचल में शिवालिक पहाडियों से निकल कर गाजियाबाद पहुंचते पहुंचने गंदे नाले में तब्दील हो जाती है। हिंडन में गंदगी का अंबार इस कदर है कि पशु भी नदी का जहरीला पानी पीने से कतराते हैं।

Share it
Top