किसानों के बकाया भुगतान को लेकर प्रशासन ने गन्ना मिल मालिक को दिया नोटिस

किसानों के बकाया भुगतान को लेकर प्रशासन ने गन्ना मिल मालिक को दिया नोटिस

बागपत। किसानों के बकाया भुगतान को लेकर प्रशासन ने बागपत के मलकपुर गन्ना मिल मालिक उमेश मोदी के खिलाफ वसूली नोटिस (आरसी) जारी कर जमीन नीलाम करने की घोषणा कर दी है। बार-बार चेतावनी देने के बाद भी किसानों का भुगतान न किए जाने से नाराज जिला प्रशासन ने यह कदम उठाया है। जमीन की नीलामी कर किसानों का बकाया भुगतान कराया जाएगा।
दरअसल, बैंक घोटाले के आरोपों के बाद अब एक और मोदी के खिलाफ कानून अपना काम करने जा रहा है। यह मोदी कोई और नहीं बल्कि बागपत के मलकपुर गन्ना मिल मालिक उमेश मोदी है। जिस पर किसानों का 250 करोड़ का बकाया है और किसान दो साल से मिल मालिक के पास चक्कर काट रहे हैं लेकिन भुगतान नहीं हो रहा है। केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह भी इस मिल मालिक की जांच करा चुके हैं, जिसमें पाया गया है कि उमेश मोदी ने किसानों का पैसा अपने दूसरे कारोबार में लगा लिया और किसानों को गन्ने का भुगतान नहीं किया जिसके कारण किसानों का भुगतान दो साल से अटका हुआ है।
उमेश मोदी को प्रशासन पहले की कई बार भुगतान करने का समय दे चुका है लेकिन किसानों का भुगतान नहीं किया गया। किसानों के द्वारा बार भुगतान का दबाव बढ़ता देख अब भाजपा नेताओं को भी 2019 के चुनाव का डर सताने लगा है, जिसको देखते हुए ये नेता अब और खतरा नहीं लेना चाहते हैं । 2019 के चुनाव में ये किसान दीवार बनकर भाजपा के सामने खड़े हों, इससे पहले ही गन्ना भुगतान की समस्या को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। जिसके चलते प्रशासन ने मिल मालिक के खिलाफ आरसी जारी की थी और अब मिल की भूमि की नीलामी कर किसानों को बताया भुगतान कराया जाएगा।
जिलाधिकारी ऋषिरेंद्र का कहना है कि किसानों के गन्ना भुगतान न करने के कारण यह कदम उठाया जा रहा है। वहीं केद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह ने साथ कहा है। कोई भी गन्ना मिल किसानों का भुगतान नहीं रोक सकता। अगर ऐसा होता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

Share it
Top