अवैध सम्बन्ध में हुई थी पंडित की हत्या, महिला गिरफ्तार

अवैध सम्बन्ध में हुई थी पंडित की हत्या, महिला गिरफ्तार

बागपत। जनपद के चर्चित पंडित विनोद शर्मा हत्याकाण्ड का पुलिस ने खुलासा करने का दावा किया है। पुलिस के मुताबिक अवैध संबंध का पता चलने पर पति ने पत्नी की ही मदद से पंडित को घर बुलाकर उसकी गला दबाकर हत्या की थी। इसके बाद शव को एक प्लॉट में फेंककर उसका सिर धड़ से अलग कर दूर फेंक दिया, ताकि शव की शिनाख्त न हो सके। पुलिस ने आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया है। महिला की निशानदेही पर पंडित के कपड़े व हत्या में प्रयुक्त फावड़ा बरामद हुआ है।
पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश ने प्रेस वार्ता कर बताया कि 9 जनवरी को एक खाली प्लॉट में सिर कटा अज्ञात शव पड़ा मिला था, जिसकी शिनाख्त पंडित विनोद शर्मा पुत्र जगदीश शर्मा निवासी कमलानगर बड़ौत के रूप में हुई थी। इस मामले में मृतक के बेटे की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया था। इस मामले में बड़ौत पुलिस ने जांच की और सर्विलांस टीम की मदद से हत्या में शामिल बड़ौत निवासी एक महिला को गिरफ्तार कर हत्याकांड से पर्दा उठाया।
आरोपी महिला ने पूछताछ में बताया कि वह सिलाई का कार्य करती है। पंडित उसके घर पर सिलाई का काम दिलाने के बहाने आया करता था। इसी दौरान पंडित व उसके बीच प्रेम संबंध हो गए तथा दोनों फोन पर बात करने लगे। कुछ समय बाद महिला के पति को पंडित व अपनी पत्नी के अवैध संबंधां के बारे में पता चला गया। इस पर उसके पति ने पंडित की हत्या की योजना बनाई। योजना के अनुसार महिला ने फोन कर पंडित को घर बुलाया और पति-पत्नी ने मिलकर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। हत्या के बाद उसके शव को खाली प्लॉट में फेंक दिया।
शव की शिनाख्त न हो इसके लिए उन्होंने उसका सिर फावड़े द्वारा धड़ से अलग कर दूर एक गड्ढे में दबा दिया और वहां से फरार हो गए। आरोपी महिला की निशानदेही पर मृतक के कपड़े और हत्या में प्रयुक्त फावड़ा बरामद किया गया। उधर विनोद के बेटे नितिन शर्मा का कहना है कि पुलिस ने उसके पिता की हत्या की जो कहानी बनाई है, वह गलत है। उनके पिता ऐसे नहीं थे। महिला और उसके पति के अलावा अन्य लोग भी उसकी हत्या में शामिल रहे हैं। पुलिस ने आरोपी महिला को पूछताछ के बाद न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।।

Share it
Top