86 लाख किसानों का 36 हजार करोड़ कर्ज माफ किया: योगी

86 लाख किसानों का 36 हजार करोड़ कर्ज माफ किया: योगी

मेरठ। मेरठ के सुभारती विश्वविद्यालय के शहीद मातादीन वाल्मीकि परिसर में भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के दूसरे दिन केंद्र तथा प्रदेश सरकार के कार्य और योजनाओं की प्रशंसा वाले सभी राजनीतिक प्रस्ताव पास किए गए। इसमें कृषि, इन्वेस्टर्स समिट, आधारभूत ढांचा, शिक्षा, उद्योग, सहकारिता, कानून व्यवस्था, स्वास्थ्य व संस्कृति का संरक्षण शामिल रहे।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश का भविष्य उज्ज्वल दिखाई दे रहा है। इसके साथ जनता के सपनों को धरातल पर साकार करने के लिए जनहित योजनाएं लाई गई हैं। किसानों को उनकी उपज लागत का डेढ़ गुना दाम देने का वादा पूरा किया। अभी तक 86 लाख किसानों का 36 हजार करोड़ कर्ज माफ किया गया। इसके साथ 34 हजार करोड़ गन्ना मूल्य बकाया भुगतान किया गया। सूबे में चीनी मिलों की पेराई क्षमता को बढ़ाया। यूरिया की कमी नहीं होने दी गई। गेहूं की खरीद में बिचौलियों की अवैध व्यवस्था को खत्म कराया। मुख्यमंत्री ने बताया कि नोएडा में सैमसंग कंपनी की फैक्ट्री का एक्सपेंशन कराया। 6० हजार करोड़ के निवेश का शिलान्यास हुआ। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का निर्माण शुरू हुआ। पेरीफेरल एक्सप्रेस वे का उदघाटन किया गया। 28 नए राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित हुए। सभी विभाग में पारदर्शिता के लिए ई-टेंडर शुरू किया गया। प्राइवेट स्कूलों की मनमानी पर अंकुश लगाने वाला विधेयक लाया गया। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि परिषदीय स्कूलों में बच्चों को किताब, बैग, जूता आदि दिया गया। नकल उद्योग को बंद करा दिया गया। विभिन्न परियोजना को मंजूरी मिली। बाणसागर परियोजना को प्रदेश के लिए समर्पित किया गया। 46 लाख गरीब परिवारों को नि:शुल्क बिजली कनेक्शन उपलब्ध कराए। इन सभी के साथ प्रदेश में कानून का राज स्थापित किया गया। एक जिला एक उत्पाद से उद्योग को बल मिला। दुनिया की सबसे बड़ी योजना आयुष्मान स्वास्थ्य का परिदृश्य बदलने वाली है। इस मौके पर भाजपा के सांसद, विधायक व वरिष्ठ नेतागण भी मौजूद रहे।

Share it
Top