थानाभवन में बस पलटने से 5 की मौत...बीस यात्री घायल, कई की हालत नाजुक, घटनास्थल पर मचा कोहराम

थानाभवन में बस पलटने से 5 की मौत...बीस यात्री घायल, कई की हालत नाजुक, घटनास्थल पर मचा कोहराम

थानाभवन। शामली से गंगोह की ओर जा रही यात्रियों से ठसाठस भरी एक निजी बस आज जलालाबाद से थानाभवन की ओर जाने वाले मार्ग पर रेलवे क्रासिंग के पास अनियंत्रित होकर पलट गई, जिसमें सवार पांच यात्रियों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि बीस घायल हो गये, जिनमें से कई की हालत नाजुक बनी हुई है। घटनास्थल पर कोहराम मच गया और विभत्स दृश्य को देखकर हर किसी की आंख नम हो गई। घंटों की मशक्कत के बाद घायलों को पलटी हुई बस से निकालकर विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया, इस दौरान व्यवस्था बनाने में पुलिस को भी कडी मशक्कत करनी पडी। जानकारी के अनुसार आज सुबह लगभग ग्यारह बजे एक निजी बस संख्या यूपी-12टी-3०69 गंगोह जाने के लिये सोहंजनी उमरपुर गांव के निकट पहुंची तो रेलवे क्रासिंग के नजदीक बस अनियंत्रित होकर सडक किनारे खाई में पलट गई। यात्रियों से ठसाठस भरी बस के सडक किनारे पलटने से गाडी के अन्दर यात्रियों में चीख पुकार मच गई। सोहंजनी, उमरपुर, अहमदपुर, सोहंजनी डेरा के ग्रामीणों को हादसे की सूचना मिली तो सैंकडों ग्रामीण मौके पर पहुंच गये और गाडी में फंसे यात्रियों को निकालना शुरू किया। इसी बीच पुलिस को भी सूचना दी गई, जिस पर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस के आने से पहले ही ग्रामीणों ने एक ट्रक से रस्से बांधकर खाई में गिरी बस को निकालने की कोशिश की, लेकिन सफल नहीं हो सके। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने जेसीबी मशीन मंगवाकर उससे पलटी हुई बस को खाई से बाहर निकाला। बस के शीशे तोडने के बाद का मंजर देखा नहीं जा सका। पूरी बस खून से सराबोर थी। घायल यात्रियों में चीख पुकार मच गई। पुलिस व ग्रामीणों ने मिलकर बस के अन्दर से फंसी सवारियों को बाहर निकाला। अन्दर से बामुश्किल निकाले गये यात्री ओमप्रकाश उर्फ चुन्नू पुत्र कर्णसिंह निवासी बिरालसी, शाहरूख पुत्र कल्लू निवासी सोहंजनी उमरपुर, यामीन पुत्र शकील निवासी सोहंजनी उमरपुर, नीशू पुत्र विनोद निवासी जानीपुर, अनुष्का पुत्री मुकेश निवासी मानकपुर डेरा की मौत हो चुकी थी, जबकि दुर्घटना में घायल भूरी पत्नी आकिल निवासी तितरो, जनार्धन पुत्र बच्चाराम निवासी गंगोह, जिया पुत्र अकील निवासी तितरो, गुफरान पुत्र अकील निवासी तितरो, रेखा पत्नी अनिल निवासी पानीपत, रूकमेश पत्नी राजेश निवासी गंगोह, महफूज कूंजडा पुत्र राशिद निवासी जलालाबाद, परमिला पत्नी हरविन्दर सिंह निवासी ताराहेडी, मौसम पुत्र नेत्रपाल निवासी रादौर, जुशादा पत्नी शराफत निवासी गढी दौलत, शिवम पुत्र नेत्रपाल निवासी गढी दौलत, इसम सिंह पुत्र इलमचंद निवासी जानीपुर, खुर्शीद पुत्र लतीफ निवासी थानाभवन, फरमान पुत्र रिफाकत निवासी पापडी, रिफाकत पुत्र शौकत निवासी पापडी, इमराना पत्नी शकील निवासी थानाभवन, सरोज पत्नी मेहरचंद निवासी गंदेवडा को थानाभवन के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से नौ घायलों को गम्भीर हालत में हायर सेंटर रैफर कर दिया गया। घटना से गुस्साये ग्रामीणों ने इस हादसे के लिये पूरी तरह डग्गामार बस चालक को जिम्मेदार ठहराया। उनका कहना था कि बस चालक ने बस को तेजी व लापरवाही से चलाया है और इसी कारण यह दर्दनाक हादसा हुआ है। इस दौरान वहां लोगों की काफी भीड जुट गई, जिसके चलते पुलिस को व्यवस्था बनाने में काफी मशक्कत करनी पडी। इस हादसे के कारण जाम की स्थिति बन गई और दोनों तरफ वाहनों की लम्बी-लम्बी कतारें लग गई।

Share it
Top