यूपी बोर्ड का परिणाम 29 अप्रैल को

यूपी बोर्ड का परिणाम 29 अप्रैल को

इलाहाबाद। विश्व की सबसे बड़ी शैक्षिक बोर्ड, उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा का परिणाम 29 अप्रैल को घोषित किया जायेगा। आधिकारिक सूत्रों ने आज यहां बताया कि यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के कुल 66 लाख 37 हजार अठारह परीक्षार्थियों ने नामांकन कराया था, जिसमें हाईस्कूल के 36 लाख 55 हजार 691 और इंटरमीडिएट के 29 लाख 81 हजार 327 परीक्षार्थी शामिल हैं। परीक्षा के चौथे ही दिन परीक्षा छोडने वालों की संख्या 1० लाख से अधिक हो गयी थी। उन्होंने बताया कि पहली बार हाईस्कूल की परीक्षा मात्र 14 दिन और इंटरमीड़एिट की परीक्षा 25 दिनों में सम्पन्न कराई गयी। हाईस्कूल
की परीक्षा छह फरवरी से शुरू होकर 22 फरवरी तक और इंटरमीडिएट छह फरवरी से 1० मार्च तक चली थी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की नकल विहीन परीक्षा की घोषणा के कारण इस बार परीक्षा सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में कराया गया। नकल विहीन परीक्षा की घोषणा का पहली बार इस प्रकार असर रहा कि परीक्षा समाप्त होते होते पहली बार 11 लाख से अधिक परीक्षार्थियों ने परीक्षा को 'टाटाÓ कर दिया। गौरतलब है कि वर्ष 1992 में कल्याण सिंह की सरकार में नकलचियों पर सही मायनों में नकेल कसी गयी थी, जिसके कारण बोर्ड का परीक्षाफल घटकर 3०.38 प्रतिशत रह गया था। उस समय नकलचियों को पकड़कर सीधा जेल भेजा जा रहा था, जबकि इस बार ऐसा नहीं था, लेकिन पिछली बार की स्थिति भांपकर परीक्षार्थीयों ने बडी संख्या में परीक्षा को 'बाय बायÓ कर दिया। उस बार बोर्ड की परीक्षा के बाद कल्याण सिंह सरकार को बेदखल होना पड़ा था।

Share it
Share it
Share it
Top