यूपी की 11 विधानसभा सीटों पर मतदान आज...सबसे अधिक 13 प्रत्याशी लखनऊ कैण्ट और जलालपुर सीटों पर

यूपी की 11 विधानसभा सीटों पर मतदान आज...सबसे अधिक 13  प्रत्याशी लखनऊ कैण्ट और जलालपुर सीटों पर

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की 11 विधानसभा सीटों के उपचुनाव के लिए चाकचौबंद सुरक्षा व्यवस्था के बीच सोमवार को वोट डाले जायेंगे। राज्य निर्वाचन कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार मतदान सुबह सात बजे शुरू होगा और शाम छह बजे सम्पन्न होगा, हालांकि निर्धारित समय के बाद कतार में लगे लोगों को वोट डालने दिया जायेगा। मतदान केन्द्रों पर पोलिंग पार्टियां जम चुकी हैं। इस चुनाव में 41 लाख से अधिक मतदाता 1०9 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। सूबे में जिन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हो रहा है उनमें सहारनपुर की गंगोह, रामपुर, अलीगढ में इगलास (सु), लखनऊ कैण्ट, कानपुर में गोविन्दनगर, चित्रकूट की मानिकपुर, प्रतापगढ, बाराबंकी की जैदपुर (सु), अंबेडकरनगर में जलालपुर, बहराइच मे बलहा (एससी) और मऊ में घोसी सीट शामिल हैं। मतगणना 24 अक्टूबर को मतगणना होगी और उसी दिन परिणाम घाषित कर दिये जायेंगे। राज्य की सभी 11 सीटों पर उपचुनाव में चतुष्कोणीय मुकाबले की संभावना है क्योंकि भारतीय जनता पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने सभी सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे हैं। सबसे अधिक 13 प्रत्याशी लखनऊ कैण्ट और जलालपुर सीटों पर हैं, जबकि रामपुर, इग्लास और जैदपुर में सबसे कम सात सात उम्मीदवार चुनाव मैदान में है। गोविन्दनगर और मानिकपुर में नौ-नौ, रामपुर, इगलास और जैदपुर में सात-सात प्रत्याशी किस्मत आजमा रहे हैं। इन 11 सीटों में नौ सीटें भाजपा के पास थी, जबकि एक एक सीट सपा और बसपा के पास थी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी सीटों पर जोरदार प्रचार किया, जबकि बसपा प्रमुख मायावती ने खुद को प्रचार से दूर रखा। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सिर्फ रामपुर सीट पर प्रचार किया। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी प्रचार से दूर रहीं। चुनाव 4529 मतदेय स्थल और 23०7 मतदान केन्द्र बनाये गये हैं। मतदान प्रक्रिया के दौरान 337 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 6० जोनल मजिस्ट्रेट,471 स्टेटिक मजिस्ट्रेट और 52० माइक्रो आब्जर्वर मौजूद रहेंगे, जबकि 21 हजार 584 मतदानकर्मी चुनाव को सम्पन्न करायेंगे। मतदान में 5435 ईवीएम कंट्रोल यूनिट और 5435 बैलेट यूनिट के अलावा 5888वीवीपैट का इस्तेमाल होगा। 429 बूथों पर वेबकास्ंिटग करायी जायेगी। मऊ के घोसी में सबसे ज्यादा चार लाख 23 हजार 952 मतदाता हैं, जबकि प्रतापगढ में सबसे कम तीन लाख 36 हजार 989 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

Share it
Top