गाजीपुर में इलाज के दौरन महिला की किडनी निकालने का आरोप

गाजीपुर में इलाज के दौरन महिला की किडनी निकालने का आरोप

गाजीपुर। उत्तर प्रदेश में गाजीपुर के जंगीपुर क्षेत्र में महिला की मृत्यु के बाद उसके परिजनों ने मऊ जिले के एक निजी अस्पताल के डाक्ट्ररों पर इलाज के दौरान उसकी किडनी निकालने का आरोप लगाया है । आरोपों की पुष्टि के लिए जिलाधिकारी ने महिला के शव को क्रब से निकालकर उसका पोस्टमार्टम करने का आदेश दिया है । जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री ने आरोप की पुष्टि के लिए सदर के उपजिलाधिकारी (एसडीएम) की मौजूदगी में क्रब से महिला का शव निकाल कर आज पोस्टमार्टम कराने का आदेश दिया है। गौरतलब है कि जंगीपुर इलाके सहादतपुर निवासी आबिद हुसैन की पत्पी अनुरुल निशा(45) गत 29 जून को मि_ापारा में सडक हादसे में घायल हो गई थी। महिला को जिला अस्पताल से रेफर किए जाने के बाद परिवार वाले उसे प्रकाश ट्रामा सेंटर, नरई बांध मऊ ले गए। जहां दूसरे दिन ऑपरेशन के बाद महिला को आईसीयू में रखा गया और 17 दिन तक लगातार इलाज के बाद भी कोई सुधार नहीं हुआ। उसके बाद परिवार के लोग अनुरुल निशा को डिस्चार्ज करा कर वाराणसी के लिए चले लेकिन रास्ते में उसकी मृत्यु हो गई । परिजन शव ले गये और जब दफानाने की प्रक्रिया चल रही थी तो अनुरुल निशा के कमर के पास चीरे का निशान मिला। उस पर उन्हें किडनी निकालने का शक हुआ। उसके बाद वे लोग जंगीपुर थाने पर पहुंचे लेकिन पुलिस मऊ का मामला होने की बात कह पुलिस ने उन्हें वापस भेजा दिया आखिर में घरवाले कल जिलाधिकारी से मिले। उन्होंने मामले को गंभीरता से लेते हुए अनुरूल निशा के घरवालों के आरोप की पुष्टि के लिए उसके शव को कब्र से निकाल कर पोस्टमार्टम का आदेश दिया। उन्होंने कहा कि अगर किडनी निकालने की बात सामने आई तब संबंधित के खिलाफ निश्चित रूप से कार्रवाई होगी।

Share it
Share it
Share it
Top