प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से हटेंगी आवारा गायें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से हटेंगी आवारा गायें

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र उत्तर प्रदेश के पौराणिक नगर वाराणसी से आवारा गायों को हटाने की योजना तैयार की है, जिसे समयबद्ध ढंग से लागू किया जाएगा। केंद्रीय आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने आज यहां बताया कि केंद्र सरकार के शहरी मिशनों के तहत वाराणसी का समयबद्ध ढंग से विकास करने की योजनाएं तैयार की गई है। योजनाओं के वाराणसी से आवारा गायों और सांडों को हटाया जाएगा। इसके लिए नगर निगम और जिलाधीश को एक महीने में उस स्थान को चिन्हित करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है, जहां इन गायों और सांडों को रखा जाएगा। योजनाओं के अनुसार वाराणसी नगर निगम के कार्यालय भवन को शहर के प्रतीक चिन्ह के रुप में विकसित किया जाएगा। इसके अलावा पंडित मदन मोहन मालविया के जीवन और कार्यों पर एक संग्रहालय एवं संस्कृति केंद्र बनाया जाएगा। केंद्रीय आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने आज यहां बताया कि ये निर्णय उत्तर प्रदेश के शहरी विकास मंत्री सुरेंद्र खन्ना की अध्यक्षता में वाराणसी में हुई एक बैठक में लिये गए। यह बैठक वाराणसी में चल रहे केंद्र सरकार के शहरी मिशनों में तेजी लाने के लिए बुलाई गयी थी। इसमें केंद्रीय आवास एवं शहरी कार्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा भी मौजूद थे। बैठक में तय किया गया कि वाराणसी नगर निगम के भवन को शहर के प्रतीक चिन्ह के तौर पर विकसित किया जाएगा। राष्ट्रीय भवन निर्माण कंपनी अगले माह इस संबंध में एक अनुकूलता रिपोर्ट पेश करेगी। पंडित मदन मोहन मालवीय संग्रहालय एवं संस्कृति केंद्र बनाने के लिए नवंबर तक निविदा आमंत्रित की जाएगी। वाराणसी को इस वर्ष अक्टूबर तक खुले में शौच से मुक्त कर दिया जाएगा।

Share it
Share it
Share it
Top