यूपी में फिर बरपा कुदरत का कहर...आंधी-तूफान से भारी तबाही, बीस की मौत, कम से कम 35 घायल, कई गम्भीर

यूपी में फिर बरपा कुदरत का कहर...आंधी-तूफान से भारी तबाही, बीस की मौत, कम से कम 35 घायल, कई गम्भीर

लखनऊ। उमस भरी गर्मी की मार झेल रहे उत्तर प्रदेश में बुधवार रात बंवडर ने एक बार फिर जमकर कहर बरपाया। आंधी-तूफान के कारण हुए हादसों में कम से कम 20 लोगों की मृत्यु हो गई तथा 35 लोग घायल हो गये, जिनमें से कई की हालत गम्भीर बनी हुई है।
पिछले एक पखवाड़े के दौरान सूबे में तूफानी हवाओं और वर्षाजनित हादसों में 60 से अधिक लोग अकाल मृत्यु का शिकार बन चुके हैं। आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि प्रदेश के कई इलाकों विशेषकर पूर्वी तथा मध्य क्षेत्र में देर रात आए तेज आंधी-तूफान के कारण 20 लोगों की मृत्यु हो गई, जबकि 35 से अधिक घायल हो गये। बंवडर ने सीतापुर, गोंडा, बहराइच, चित्रकूट, हरदोई, कौशांबी, फतेहपुर और कन्नौज जिले में जमकर कहर बरपाया। इन क्षेत्रों में हवा की रफ्तार 50 किमी प्रति घंटा से लेकर 75 किमी प्रति घंटा तक रही। चक्रवाती तूफान से सैकडो पेड़ धाराशायी हो गये। बिजली के खंभे गिर गये। टीन की चादरें सैकड़ों फिट दूर जा गिरीं। ग्रामीण इलाकों में सैंकडों कच्चे मकान जमीदोज हो गये। बडी तादाद में मवेशी मारे गये। आंधी, बारिश का बिजली आपूर्ति पर प्रतिकूल असर पडा और सैकड़ों इलाके देर शाम से अंधेरे में डूब गये। वर्षाजनित हादसों में सीतापुर में छह, अंबेडकरनगर तथा गोंडा में चार-चार, कौशांबी, कन्नौज व हरदोई में दो दो तथा फैजाबाद तथा हरदोई में एक-एक व्यक्ति के मरने की सूचना है। सीतापुर तथा फैजाबाद में 11-11, गोंडा में सात, कन्नौज तथा हरदोई में तीन-तीन लोग घायल हो गये। सीतापुर से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार तूफान से बिसवां क्षेत्र में मस्जिद का एक हिस्सा गिर गया, जिसमें एक बुजुर्ग की मृत्यु हो गयी। इसके अलावा सदरपुर में एक मकान की दीवार गिर जाने से उसके मलबे में दबकर एक किशोरी और उसकी मां की मृत्यु हो गई। जिले के अन्य क्षेत्रों में चार लोगों की मृत्यु हो गयी। गोंडा में नवाबगंज और खरगूपुर इलाके में एक घर गिर जाने से चार लोगों की मृत्यु हो गयी जिसमें दो युवतियां तथा दो वरिष्ठ नागरिक शामिल है। अम्बेडकरनगर में, हंसवाड़ और जलालपुर क्षेत्र में दो अलग-अलग घटनाओं में पेड़ गिरने पर चार लोगों की मौत हो गई। फैजाबाद के आयुक्त मनोज मिश्रा ने बताया कि मुमताज नगर क्षेत्र में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। अयोध्या में, विवादित क्षेत्र में एक पुराना बरगद का पेड़ उखड़कर गिर गया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संबंधित जिलों के प्रभावित परिवारों को राहत प्रदान करने और सरकारी नियमों के मुताबिक मुआवजा वितरित करने का निर्देश दिये है। सरकारी आदेश के अनुसार प्राकृतिक आपदा के शिकार मृतकों के परिवारों को चार लाख रूपये का अनुदान देने का प्राविधान है। मौसम विभाग के निदेशक जे पी गुप्ता का कहना है इस सप्ताह मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। प्रदेश के कई हिस्सों में तेज आंधी तूफान के साथ जोरदार बारिश हो सकती है। प्रदेश में मानसून 15 जून तक पहुंचने के आसार हैं।
गौरतलब है कि पिछली 12 जून को आंधी और तेज रफ्तार बारिश के चलते विभिन्न हादसों में 15 लोगों को जान गवानी पडी थी, जबकि आठ जून को प्रदेश में आंधी तूफान के कारण हुये हादसों में 26 लोगों की मौत हो गई थी जिनमें जौनपुर और सुल्तानपुर में पांच-पांच, चन्दौली और बहराइच में तीन-तीन, मिर्जापुर, सीतापुर, अमेठी और प्रतापगढ़ में एक-एक, उन्नाव में चार और रायबरेली में दो लोगों वर्षा जनित हादसों का शिकार बने थे।

Share it
Top