शूटर वर्तिका सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज...इकबाल अंसारी की सुरक्षा में फिलहाल कोई तब्दीली नहीं: वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक

शूटर वर्तिका सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज...इकबाल अंसारी की सुरक्षा में फिलहाल कोई तब्दीली नहीं: वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक

अयोध्या। बाबरी मस्जिद के मुद्दई इकबाल अंसारी के साथ हाथापाई करने वाली अंतर्राष्ट्रीय शूटर वर्तिका सिंह के खिलाफ थाना रामजन्मभूमि में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है, जबकि जान का खतरा बताने वाले अंसारी की सुरक्षा में फिलहाल कोई तब्दीली नहीं की गयी है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी ने गुरूवार को यूनीवार्ता को बताया कि बाबरी मस्जिद के मुद्दई इकबाल अंसारी ने श्रीरामजन्मभूमि थाना में अन्तर्राष्ट्रीय शूटर वर्तिका सिंह एवं एक अन्य के खिलाफ तहरीर दी थी, जिस पर पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत कर लिया। जांच करने के उपरान्त ही कोई कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने बताया कि रामजन्मभूमि/बाबरी मस्जिद की नियमित चल रही सुनवाई में बाबरी मस्जिद के मुद्दई इकबाल अंसारी ने अपने अधिवक्ता के जरिये इस घटना के बारे में उच्चतम न्यायालय को जानकारी दी थी। श्री तिवारी ने बताया कि इस पूरी घटना के बारे में उच्चतम न्यायालय को भी अवगत करा दिया गया है। उन्होंने साफ किया कि अंसारी की अभी कोई सुरक्षा नहीं बढ़ाई गयी है, जो पुरानी सुरक्षा व्यवस्था थी उसी को रखा गया है। उन्होंने बताया कि गोपनीय विभाग से जांच कराने के बाद उनकी और सुरक्षा बढ़ाने पर विचार किया जायेगा। गौरतलब है कि तीन सितम्बर को बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी के आवास पर एक महिला और पुरूष ने आकर कथित रूप से धमकी देते हुए कहा था कि बाबरी मस्जिद का मुद्दा हटाओ कहकर हाथापाई करने लगी। अंसारी के मुताबिक महिला ने खुद को अंतर्राष्ट्रीय शूटर वर्तिका सिंह बताया था। रामजन्मभूमि बाबरी मस्जिद और तीन तलाक के बारे में बातचीत होते-होते वाद-विवाद इतना बढ़ गया कि अंसारी के सुरक्षा कर्मियों ने बीच बचाव कर थाना रामजन्मभूमि को इसकी सूचना दी जिस पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया था। इकबाल अंसारी ने कहा था कि उन्हे जान-माल का खतरा बना हुआ है। अगर मुझे कुछ हो गया तो इसकी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी। उन्होंने यह भी कहा था कि उच्चतम न्यायालय में रामजन्मभूमि/बाबरी मस्जिद का दिन-प्रतिदिन सुनवाई हो रही है। अदालत जो फैसला करेगी हम उसको मानने के लिये तैयार हैं। उन्होंने बताया था कि उनके खिलाफ इस तरह की कई घटनायें हो चुकी हैं।

Share it
Top