शाहजहांपुर प्रकरण की जांच के लिए एसआईटी का गठन

शाहजहांपुर प्रकरण की जांच के लिए एसआईटी का गठन

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने मंगलवार को शाहजहाँपुर प्रकरण में पुलिस महानिरीक्षक, लोक शिकायत नवीन आरोड़ा की अध्यक्षता में विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन कर दिया है। साथ ही अधिकारियों को पीडि़त परिवार की सुरक्षा करने के भी निर्देश दिए हैं। सरकारी प्रवक्ता के अनुसार राज्य के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने शाहजहांपुर प्रकरण की जांच के लिए पुलिस महानिदेशक मुख्यालय में तैनात पुलिस महानिरीक्षक, लोक शिकायत नवीन अरोड़ा के नेतृत्व में एसआईटी के गठन का निर्णय लिया गया है, जिसमें श्रीमती भारती सिंह, सेनानायक 41वीं वाहिनी पीएसी गाजियाबाद को भी नामित किया गया है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने यह भी निर्देश दिये है कि श्री अरोड़ा इस दल में स्वच्छ छवि के अन्य पुलिस अधिकारियों को सम्मिलित करेगें। यह एसआईटी शाहजहांपुर प्रकरण में पीडि़ता द्वारा लगायें गये आरोपों की जांच एवं दर्ज अभियोगों की निष्पक्ष विवेचना कराना सुनिश्चित करेगी। प्रवक्ता के अनुसार इसके साथ ही मुख्य सचिव श्री तिवारी ने बरेली मण्डल के आयुक्त एवं रूहेलखण्ड विश्वविद्यालय के कुलपति को विधि छात्रा और उसके भाई का प्रवेश विश्वविद्यालय अथवा उससे आबद्ध महाविद्यालय में कराने के निर्देश दिये हैं। साथ ही छात्रा, उसके माता-पिता एवं परिवार के अन्य सदस्यों को समुचित सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराने के अधिकारियों को निर्देश दिए गये हैं। गौरतलब है कि एक शाहजहांपुर की एक छात्रा ने पूर्व केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर गंभीर आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ अपहरण आदि का मुकदमा दर्ज कराया गया था। राज्य सरकार ने एसआईटी का गठन उच्चतम न्यायालय के आदेश पर किया गया है।

Share it
Top