अदालत के आदेश की अवहेलना कर रहा है जिला प्रशासन: आजम

अदालत के आदेश की अवहेलना कर रहा है जिला प्रशासन: आजम

रामपुर। करीब एक महीने के अंतराल के बाद अपने संसदीय क्षेत्र रामपुर लौटे समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मौहम्मद आजम खान ने सोमवार को कहा कि स्थानीय प्रशासन द्वारा दर्ज करायी गई सभी एफआईआर उन पर नहीं, बल्कि मौहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय और उसके छात्रों के खिलाफ है। श्री खान ने यहां पत्रकारों से कहा कि जिला प्रशासन द्वारा दर्ज कराई गई सभी 26 प्राथमिकी उनके नहीं, बल्कि मौहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय और अध्य्यनरत छात्रों के खिलाफ है। प्रशासन चाहता है कि लोग जाहिल रहें और यही कारण है कि विश्वविद्यालय का विरोध किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन न्यायालय के आदेश की अवहेलना कर रहा है। विश्वविद्यालय का गेट तोडऩा और पुस्तकालय में छापा अदालत के आदेश की तौहीन है। सपा सांसद ने सवाल किया कि जिस संस्थान के लिये सैकड़ों एकड़ जमीन खरीदी गई हो, उसके लिये पौने चार बीघा जमीन पर कब्जा कौन करेगा। यह सिर्फ उनके एवं उनके परिवार के खिलाफ झूठे मामले दर्ज कर राजनीतिक बढ़त लेने का एक कुत्सित प्रयास भर है। श्री खान ने कहा कि जिला प्रशासन की मदद से उन्हे लोकसभा चुनाव में हराने की हर मुमकिन कोशिश की गई, लेकिन कामयाबी नहीं मिल सकी। अब विधानसभा उपचुनाव में उन्हें हराने की कोशिश हो रही है, लेकिन जुल्म करके उनको हराना नामुमकिन है। सपा सांसद करीब एक माह बाद आज बकरीद के मौके पर यहां आये थे जहां उन्होने विशेष नमाज अदा की। जिला प्रशासन ने गरीबों की जमीन हडपने के आरोप के साथ श्री खान और उनके परिजनों के खिलाफ 26 एफआईआर दर्ज की है, जिससे सपा नेता एवं उनके विधायक पुत्र की गिरफ्तारी की संभवानाएं प्रबल हो चुकी है।

Share it
Top