सांडू के दो साथियों को दौराला पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया...मृतक बदमाशों की पहचान अमित उर्फ शेरू व रविन्द्र कालिया के रूप में हुई

सांडू के दो साथियों को दौराला पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया...मृतक बदमाशों की पहचान अमित उर्फ शेरू व रविन्द्र कालिया के रूप में हुई

मेरठ। मुजफ्फरनगर जिले के नई मंडी क्षेत्र में एक लाख के ईनामी बदमाश रोहित उर्फ सांडू से मुठभेड़ के दौरान फरार हुए इस गिरोह के दो बदमाशों का मेरठ के दौराला में सरधना रोड पर पुलिस से टकराव हो गया। यहां चैकिंग के दौरान इन बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। पुलिस ने भी जवाबी कार्यवाही करते बदमाशों को चुनौती दी। आमने-सामने की फायरिंग में कुख्यात बदमाश रोहित उर्फ सांडू के दोनों साथियों को पुलिस ने मार गिराया। पुलिस सूत्रों के अनुसार मुजफ्फरनगर जिले के नई मंडी क्षेत्र में एक लाख के ईनामी बदमाश रोहित उर्फ सांडू से मुठभेड़ के दौरान फरार हुए इस गिरोह के दो बदमाशों को चैकिंग कर रही दौराला पुलिस ने घेर लिया। बदमाशों को ललकारने पर उन्होंने पुलिस टीम पर फायरिंग करनी शुरू कर दी, जवाबी कार्यवाही में दोनों बदमाश मारे गये। इन बदमाशों की पहचान अमित उर्फ शेरू निवासी मंसूरपुर और रविन्द्र कालिया निवासी हिसार (हरियाणा) के रूप में हुई। इसकी जानकारी मिलने पर एडीजी मेरठ जोन प्रशांत कुमार भी दौराला पहुंच गये थे। उन्होंने बताया कि यहां मुठभेड़ में मारे गये दोनों बदमाश सवेरे मुजफ्फरनगर में मुठभेड़ के दौरान पुलिस को चकमा देकर फरार हो गये थे। ये दोनों भी रोहित सांडू गिरोह के सक्रिय सदस्य थे। उसके गिरोह में यह शूटर के तौर पर कार्य करते थे। इन दोनों की गिरफ्तारी पर यूपी पुलिस ने 5०-5० हजार रुपये का ईनाम घोषित कर रखा था। जोन में पुलिस को मिली इस सफलता ने लखनऊ तक जश्न का माहौल पैदा कर दिया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार हाल में मेरठ से गिरफ्तार हुए भूपेंद्र बाफर की निशानदेही पर पुलिस रोहित की तलाश में जुट गई थी। दरअसल रोहित को पुलिस कस्टडी से फरार कराने में भूपेंद्र बाफर का अहम रोल था। पुलिस पूछताछ में आरोपी भूपेंद्र ने बताया कि सुशील मूंछ पर हमला करने के लिए सुपारी किलर रोहित को फरार कराया गया था। शातिर अपराधी रोहित कई संगीन मामलों में जेल में बंद था, जिसे यहां से मिर्जापुर की जेल में स्थानांतरित किया गया था। एक मुकदमे की पेशी पर शातिर को यहां एडीजे फस्र्ट कोर्ट में पेश करने के लिए पुलिस मुजफ्फरनगर लेकर आई थी।

Share it
Top