मेरठ: गुर्जरों की महापंचायत में एसएसपी को चेतावनी, दो दिन में पकड़ें प्रधान पुत्र का हत्यारोपी

मेरठ: गुर्जरों की महापंचायत में एसएसपी को चेतावनी, दो दिन में पकड़ें प्रधान पुत्र का हत्यारोपी


मेरठ। छह जुलाई को परीक्षितगढ़ में जिला पंचायत सदस्य के उप चुनाव के दौरान ग्राम प्रधान के पुत्र की हत्या का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। बुधवार को बली गांव में मृतक के घर पर आयोजित गुर्जर महापंचायत में एसएसपी को आरोपित की गिरफ्तारी के लिए 2 दिन का समय दिया गया। एसएसपी ने बताया कि आरोपित पर 20 हजार का इनाम घोषित करके गिरफ्तार करने के लिए पुलिस टीमों को लगा दिया गया है।

जिला पंचायत सदस्य के उप चुनाव के दौरान बली गांव के प्राइमरी स्कूल में मतदान के दौरान भाजपा समर्थित प्रत्याशी विजय धामा ने अपने सामने खड़े ग्राम प्रधान के पुत्र अनित की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी थी। हत्या के बाद भड़के ग्रामीणों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने को लेकर मृतक के गांव में आक्रोश है। मतगणना में हत्यारोपित विजय धामा चुनाव जीत गया। हत्या के 6 दिन बाद भी पुलिस आरोपित को गिरफ्तार नहीं कर सकी है जिसके चलते बुधवार को मृतक अनित के घर पर गुर्जर समाज ने महापंचायत बुलाई। महापंचायत में हस्तिनापुर से भाजपा विधायक दिनेश खटीक, वरिष्ठ भाजपा नेता मुखिया गुर्जर, सपा नेता अतुल प्रधान सहित गुर्जर समाज के कई नेता और हजारों ग्रामीण मौजूद रहे। एसएसपी अजय साहनी, एसपी देहात अखिलेश नारायण सिंह और एसडीएम मवाना अंकुर श्रीवास्तव सहित कई अधिकारी भी महापंचायत और शोक सभा में शामिल होने पहुंचे।

शोक सभा के दौरान गुर्जर समाज के नेताओं ने आरोप लगाया कि हत्या के समय मौके पर मौजूद दारोगा और पुलिसकर्मी फायरिंग होते ही भाग खड़े हुए। हत्या के बाद पहुंची पुलिस ने मृतक के गांव के लोगों के खिलाफ ही गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर दिया। अब पुलिस बेवजह ग्रामीणों के घर पर दबिश देकर उन्हें परेशान कर रही है। उधर हत्या के 6 दिन बाद भी मुख्य आरोपी विजय धामा को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी है। भाजपा नेता मुखिया गुर्जर ने चेतावनी दी कि यदि 2 दिन के भीतर आरोपित विजय धामा गिरफ्तार न हुआ तो हजारों ग्रामीण एसएसपी कार्यालय का घेराव करेंगे। एसएसपी ने बताया कि हत्यारोपी पर बीस हजार का इनाम घोषित करके पुलिस टीमों को उसे जिंदा या मुर्दा गिरफ्तार करने का टास्क दिया गया है। इसी के साथ उन्होंने आश्वासन दिया कि अब पुलिस गांव में दबिश देकर किसी निर्दोष ग्रामीणों का उत्पीड़न नहीं करेगी। उन्होंने आरोपी की जल्द गिरफ्तारी का दावा किया।

Share it
Top