नाईक और योगी के साथ लोगों ने किया योगाभ्यास...पुलिस महानिदेशक ओ.पी. सिंह ने पुलिस पुलिसकर्मियों के साथ किया योग

नाईक और योगी के साथ लोगों ने किया योगाभ्यास...पुलिस महानिदेशक  ओ.पी. सिंह ने पुलिस पुलिसकर्मियों के साथ किया योग

लखनऊ। अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा समेत हजारों लोगों के साथ राजधानी लखनऊ में योगाभ्यास किया। लखनऊ में राज्यपाल राम नाईक ने राजभवन में पांचवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि योग स्वास्थ्य के लिए सबसे पुराना विज्ञान है, जो तन मन को स्वस्थ रखता है। उन्होंने 21 जून को विश्व योग दिवस के रूप में संयुक्त राष्ट्र संघ से मान्यता प्रदान कराने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास को सराहा। इसके साथ ही उन्होंने योग से जुड़े अपने अनुभव भी बताए। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर हर वर्ष की भांति लखनऊ में राज भवन में राज्यपाल श्री नाईक के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने हजारों लोगों के साथ योगाभ्यास किया। राजधानी लखनऊ के साथ ही कानपुर, बरेली, गोरखपुर, वाराणसी, प्रयागराज, आगरा, मेरठ, अलीगढ़, मुरादाबाद, झांसी, में भी पांचवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर लोग बड़ी संख्या में योग करने पार्क व मैदान में उमड़ पड़े। 21 जून का दिन वर्ष का सबसे लंबा दिन होता है। इसी कारण 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को मनाया जाता है। माना जाता है कि योग भी मनुष्य को दीर्घ जीवन प्रदान करता है। पहली बार यह दिवस 21 जून 2०15 को मनाया गया। लखनऊ में योग दिवस का मुख्य आयोजन राजभवन परिसर के साथ ही परिवर्तन चौक के समीप बेगम हजरत महल पार्क, डालीगंज पुल के समीप बुद्धा पार्क, बड़ा इमामबाड़ा के समीप नीबू पार्क, कैसरबाग बारादरी के समीप राजाराम पाल पार्क, सेक्टर दस इंदिरा नगर स्थित डा. बंधु पार्क, रेजीडेंसी के समीप कारगिल शहीद पार्क, अमीनाबाद के झंडेवाला पार्क, गोमती नगर के राम मनोहर लोहिया पार्क, जनेश्वर मिश्र पार्क और ग्रीन पार्क विपुल खंड में किया गया। इस अवसर पर लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी योग की महत्ता पर प्रकाश डाला। उन्होंने योग को समाज जोडऩे का सशक्त माध्यम बताया। उन्होंने कहा कि योग हमारी ऋषि परंपरा ही हमें आगे बढ़ा सकती है। योग हमारी ऋषि परंपरा का एक अभिन्न अंग है। मनुष्य जीवन योग के लिए बना है, न कि रोग के लिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऋषि परम्परा के प्रसाद को आम जन तक पहुंचाने और भारतीय संस्कृति एवं आस्था को वैश्विक मंचों पर एक नई पहचान दिलाने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि इसके लिए प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त करता हूं। इस मौके पर उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी, महापौर संयुक्ता भाटिया, मुख्य सचिव अनूप चन्द्र पांडेय भी उपस्थित थे। योगाचार्य पीयूष कांत ने उपस्थित लोगों को योगाभ्यास कराया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत सभी ने योग किया। लखनऊ में राजभवन के साथ ही 11 चिह्नित पार्कों में योग शिविर का आयोजन किया गया। पुलिस महानिदेश ओ.पी. सिंह ने पुलिस लाइन में योग दिवस पर पुलिसकर्मियों के साथ योग किया।

Share it
Top