प्रेमी के साथ मिलकर फावड़े से काटा था पति को, तीन गिरफ्तार

प्रेमी के साथ मिलकर फावड़े से काटा था पति को, तीन गिरफ्तार

इटावा- जनपद में पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने 15 दिन पूर्व लापता हुए प्राइमरी के अध्यापक की हत्या उसकी पत्नी और प्रेमी ने एक अन्य साथी के साथ मिलकर कर दी। इसका खुलासा करते हुए पुलिस ने रविवार को मृतक की पत्नी, प्रेमी और एक अन्य को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार अवैध संबंधों को छिपाने के लिए मृतक की पत्नी ने अपने प्रेमी और एक ने साथी के साथ पति को फावड़े से काटकर हत्या करने के बाद शव के टुकडों को जलाकर घर के कमरे में गड्ढा खोदकर दफना दिया था और पुलिस में अपने पति के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी।

इटावा में थाना चौबिया क्षेत्र के माखनपुर गांव में 08 जून को प्राइमरी अध्यापक सुनील कुमार लापता हो गया था, जिसके बाद उसकी पत्नी रेखा देवी ने ही थाने में लापता होने की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। कुछ दिन बाद लापता सुनील की कार पुलिस ने कानपुर के रेलवे स्टेशन की पार्किंग से बरामद की। रविवार को पत्नी के प्रेमी के गांव में बने सूने घर के कमरे की जमीन से बरामद कर लिया और हत्या के आरोप में मृतक सुनील की पत्नी और प्रेमी समेत एक और साथी को गिरफ्तार किया है।

एसएसपी संतोष कुमार मिश्रा ने रविवार को प्रेसवार्ता कर बताया कि सुनील के परिजनों के नम्बर पर एक अनजान नम्बर से फोन आया था। उसने बताया कि सुनील की कार कानपुर रेलवे स्टेशन की पार्किंग में खड़ी है, जहां से पुलिस ने सुनील की कार बरामद कर ली। सूचना देने वाले का डिटेल निकलवाने पर रामप्रकाश यादव का निकला। वह सुनील के घर आता-जाता था। पुलिस ने जब राम प्रकाश से पूछताछ शुरू की तो उसने बताया कि सुनील की पत्नी रेखा और सुखवीर ने उसे इस फोन के लिए दस हजार रुपये दिए थे। पुलिस ने सुनील की पत्नी रेखा और सुखवीर यादव को हिरासत में ले लिया। पूछताछ में रेखा ने बताया कि सुनील के दोस्त सुखवीर से उसके नाजायज संबंध हैं। इसके बारे में सुनील को पता लग गया था। सुखवीर और मैंने सुनील को रास्ते से हटाने की प्लानिंग की। प्लानिंग के मुताबिक सुखबीर मेरे पति को अपने गांव चौबिया के कुसैली गाँव में घुमाने के बहाने ले गया। गांव में बंद पड़े घर के अंदर कमरे में सुनील की फावड़े से काटकर हत्या कर दी और शव के टुकड़े घर के कमरे में चार फीट गहरा गड्ढा खोदकर उसमें शव के टुकडों को केरोसिन से जलाकर दफना दिया था। सुनील की कार को कानपुर रेलवे स्टेशन पर पार्किंग में खड़ा करवा दिया। पुलिस ने रेखा और उसके प्रेमी सुखवीर की निशानदेही पर उसके गाँव के घर के कमरे से गड्ढा में से सुनील के शव के टुकड़ों को बरामद कर लिया है। हत्या में प्रयोग किया गया फावड़ा और मोबाइल फोन भी बरामद कर लिया है। सुनील के शव के टुकड़ों का पंचनामा भरकर डीएनए जाँच के लिए भेजा जा रहा है।


Share it
Top