गन्ना भुगतान रुकने से किसान बेचैन


कुशीनगर । उत्तर प्रदेश में कुशीनगर जिले के गन्ना किसानों की उपज का भुगतान रुकने से हाहाकार मच गया है। जिले की चीनी मिल सेवरही का पेराई सत्र 30 मई को बंद हो गया था। इस फैक्ट्री में कठकुईंया जोन की भी गन्ना आर्पूति होती है जिसके अंतर्गत चार क्रय केंद्र चलते हैं। इसके अलावा तरयासुजान जोन का भी गन्ना सेवरही फैक्ट्री खरीदती है। इन किसानों की उपज का भुगतान 15 फरवरी तक ही हो पाया है।

सूत्रों का दावा है कि जिले के गन्ना विभाग और फैक्ट्री की मिलीभगत से किसी कर्मचारी व डाइरेक्टर द्वारा जांच का प्रार्थना पत्र दिलवा कर साजिश के तहत भुगतान गन्ना का रोकने का प्रयास किया गया है ताकि फैक्ट्री को लाभ पहुंचाया जा सके।

इससे लगभग दो हजार गन्ना किसान प्रभावित हो गये हैं। लगभग 84 करोड़ गन्ना भुगतान किसानों का रुक गया है। इस संबंध में जिला अधिकारी डा अनिल कुमार सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जायेगी और अगर गड़बड़ी मिली तो दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होना तय है।

Share it
Top