जातिवाद, तुष्टीकरण एवं वंशवाद की राजनीति खत्म: श्रीकांत शर्मा....जनाकांशाओं को पूरा करने को और अधिक जिम्मेदारी से करना होगा कार्य

जातिवाद, तुष्टीकरण एवं वंशवाद की राजनीति खत्म: श्रीकांत शर्मा....जनाकांशाओं को पूरा करने को और अधिक जिम्मेदारी से करना होगा कार्य

मथुरा। उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि 2०19 लोकसभा चुनाव से देश में जातिवाद, तुष्टीकरण एवं वंशवाद की राजनीति खत्म हो गई है। श्री शर्मा ने शनिवार की शाम पत्रकारों कहा कि भाजपा एकमात्र ऐसी पार्टी है, जिस पर किसी परिवार का कब्जा नहीं है। यह कार्यकर्ताओं की पार्टी है जिसमें छोटे स्तर से काम करके कार्यकर्ता राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर भी पहुंचता है। समाजवादी पार्टी (सपा) कांग्रेस टीडीपी समेत अन्य दलों में परिवारों का कब्जा है। एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि सपा और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) में सबसे अधिक नुकसान सपा का हुआ है। उसने दूसरी बार मात खाई है। पहले जब सपा की पूर्ण बहुमत की सरकार थी, तब उसने कांग्रेस से हाथ मिलाकर अपना वजूद खोया और इस बार जब खडे होने का अवसर था तब बसपा से हाथ मिलाकर अपना सब कुछ लुटा दिया है। उन्होंने कहा कि बसपा प्रमुख मायावती शून्य से 1० पर पहुंच गई। अगर सपा इसी प्रकार से चली तो फिर उसका सूपडा साफ होना तय है। श्री शर्मा ने कहा कि सपा अध्सक्ष अखिलेश यादव की राजनीतिक अपरिपक्वता इसका मुख्य कारण है। उन्हें तो मुख्यमंत्री का पद विरासत में मिला था। पार्टी को खडा करने में मेहनत नेता जी (मुलायम सिंह यादव) और शिवपाल यादव ने की थी। उन्होंने कहा कि राजनीति में राहुल गांधी, तेजस्वी यादव, जयंत चौधरी अखिलेश यादव सरीखे अपरिपक्व शहजादों को जनता ने खारिज कर दिया है। ऊर्जा मंत्री श्री शर्मा ने कांग्रेस अध्यक्ष के त्यागपत्र को नौटंकी बताते हुए कहा कि पार्टी के अध्यक्ष पद पर कौन रहेगा यह कांग्रेस का आन्तरिक मामला है। हकीकत यह है कि कांग्रेस उस परिवार से बाहर आ ही नहीं सकती है। जब तक वह परिवार है तब तक कांग्रेस है। उन्होंने कहा कि चुनाव परिणाम से साफ है कि परिवारवाद की राजनीति के समाप्त होने की उल्टी गिनती आरंभ हो गई है। उन्होंने कहा कि जनता ने कांग्रेस को बहुत मौके दिए पर उन्होंने गरीब को कुछ नहीं दिया। यह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पहली सरकार थी, जिसने गरीब के लिए ठोस काम किया था। उन्होने कहा कि श्री मोदी सरकार ने गरीब को पक्का घर, उस घर में बिजली की रोशनी, गैस का चूल्हा तथा शौचालय देने का काम किया। गांव के आदमी को मोदी सरकार ने पैकेज दिया है। यह लडाई उन दो दलों के बीच थी जिसमें से एक 55 साल तक सत्ता में रहने के बाद भी जनता के लिए कुछ नहीं किया और दूसरी तरफ भाजपा थी जिसने नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश की जनता के लिए काम करके दिखा दिया। श्री शर्मा ने कहा कि वास्तव में श्री मोदी ने गरीबों की कल्याणकारी योजनाओं को भ्रष्टाचाार मुक्त किया। गरीब जनता तक सीधे कल्याणकारी लाभ पहुंचाने के कारण उसने खुलकर प्रधानमंत्री को आशीर्वाद दिया है।

Share it
Top