मायावती के खिलाफ अभद्र टिप्पणी कर फंसी उत्तर प्रदेश की बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री अनुपमा जायसवाल

मायावती के खिलाफ अभद्र टिप्पणी कर फंसी उत्तर प्रदेश की बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री अनुपमा जायसवाल

गोण्डाउत्तर प्रदेश की बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री अनुपमा जायसवाल रविवार को बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती पर अभद्र टिप्पणी के कारण चुनाव आयोग के पेंच में फंस गईं।

गोंडा लोकसभा क्षेत्र में साइबर योद्धा सम्मेलन में भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते समय श्रीमती जायसवाल द्वारा बसपा सुप्रीमो मायावती पर की गयी अभद्र टिप्पणी को चुनाव आयोग ने संज्ञान में लेकर जिला निर्वाचन अधिकारी से रिपोर्ट तलब की है।

जिला निर्वाचन अधिकारी डा.नितिन बंसल ने 'यूनीवार्ता' को बताया कि चुनाव आयोग के निर्देश पर कार्यक्रम के आयोजक भाजपा जिलाध्यक्ष पीयूष मिश्र और मंत्री अनुपमा जायसवाल को नोटिस देकर जवाब मांगा गया है ।

उन्होंंने बताया कि गोण्डा विधानसभा क्षेत्र के एआरओ नितिन गौड़ को बयान की कॉपी और विवादित बयान की जांच करने के लिये निर्देशित किया गया है।

गौरतलब है कि सम्मेलन में अनुपमा ने साहब बीवी और गुलाम मूवी का उदाहरण देते हुये कांशीराम को मरहूम साहब, मायावती को बीवी और गठबंधन के नेताओं को गुलाम बताया था। वे इतने पर ही नहीं रुकीं बल्कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को घेरने के चक्कर में मायावती को हाथी का गोबर तक बताते हुये सपा बसपा गठबंधन की तुलना जानवरों के झुंड से कर दी।

Share it
Top